प्रमुख सुर्खियाँ :

चाय पर नहीं सच्चाई पर होनी चाहिए चर्चा : अखिलेश

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि अब समय आ गया है कि ‘‘सच्चाई पर चर्चा‘‘ होनी चाहिए कि चार वर्ष केंद्र में और एक वर्ष राज्य में सŸारूढ़ भाजपा सरकारों ने जनकल्याण के कौन से काम किए हैं? डबल इंजन की सरकारों ने इन पांच वर्षों में सिर्फ चाय पर चर्चा की है। अब चाय पर नहीं सच्चाई पर चर्चा होनी चाहिए कि देश की इतनी दुर्दशा कैसे हो गई?
अखिलेश ने आईपीएन को दिए अपने बयान में कहा है कि स्थिति यह है कि समाज का हर वर्ग पीड़ित और आक्रोशित है। कानून व्यवस्था की स्थिति बदतर है। किसान बदहाल है और आत्महत्याएं कर रहा है। महिलाओं और बच्चियों तक की इज्जत सुरक्षित नहीं है। व्यापारी, अधिवक्ता, शिक्षक सभी परेशान हैं। चुनाव के समय भाजपा ने जो वादे किए थे उन्हें भुला दिया गया है? भाजपा सरकार सच्चाई का सामना करने से कतराती है। अखिलेश ने कहा कि सच तो यह है कि भाजपा राज में देश-प्रदेश पांच साल पीछे चले गए हैं। इसमें दो राय नहीं कि भाजपा सरकारों की गलत नीतियों के चलते प्रदेश में तमाम विषमताएं पैदा हो गई हैं। आज तक इन सरकारों ने अपनी जनहित की कोई योजना नहीं पेश की है। बल्कि प्रदेश में तो समाजवादी सरकार की योजनाओं को ही अपना नाम देकर चलाया जा रहा है।

 

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account