प्रमुख सुर्खियाँ :

Angel Broking, ब्रांड फिल्में एबीएल के सामने एक युवा

नई दिल्ली।  एंजेल ब्रोकिंग लिमिटेड (‘एबीएल’ या ‘कंपनी’) खुद की  रीब्रांडिंग के साथ अपनी कई दशक लंबी यात्रा में एक नया अध्याय जोड़ रहा है। वर्षों से अपनी डिजिटल-फर्स्ट स्ट्रैटजी के साथ फुल-सर्विस ब्रोकरेज और एडवाइजरी सर्विसेस देने वाली कंपनी ने सभी वित्तीय सेवाओं के लिए वन-स्टॉप सॉल्युशन बनने के लिए कायापलट किया है। नई पीढ़ी के निवेशकों के लिए टेक्नोलॉजी और फाइनेंशियल सर्विसेस को एक जगह लाने के अपने प्रयासों में खुद को ‘एंजेल वन’ के रूप में रीब्रांड किया है। इसकी ब्रांड फिल्में एबीएल को जेन जेड और मिलेनियल्स के सामने एक युवा, वाइब्रंट और इनोवेटिव ब्रांड के रूप में पेश करती है, विशेष रूप से टियर -2, टियर -3 और उससे भी छोटे शहरों के लिए।

20-सेकंड लंबी तीन ब्रांड फिल्में कंपनी के इनोवेटिव सॉल्युशन दिखाती हैं जो ग्राहकों के लिए पूरी पारदर्शिता के साथ इक्विटी में निवेश करने का रास्ता बनाती है और इसके रूल-बेस्ड इंजन एआरक्यू प्राइम से सुझाव लेकर लाभ कमाने के तरीके बताती हैं। एंजेल ब्रोकिंग लिमिटेड ने पारंपरिक ब्रोकरेज कंपनी के रूप में कामकाज शुरू किया था, लेकिन अब यह एक फिनटेक ब्रांड बन गया है जो सभी वित्तीय जरूरतों जैसे  इंश्योरेंस, लोन, म्यूचुअल फंड आदि के लिए कई डिजिटल सॉल्युशन पेश करेगा।वन-स्टॉप सॉल्यूशन के रूप में इसका बिल्कुल नया अवतार, फिनटेक प्लेटफॉर्म से जुड़ी आज की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए नया प्लेटफॉर्म बनाने के लिए कंपनी की प्रतिबद्धता को दिखाता है।

#AngelOneForAll के साथ सोशल मीडिया चैनल्स पर साझा की गई फिल्में इस बात का संकेत हैं कि कंपनी ने क्लाइंट अनुभव को बढ़ाने वाले इंडस्ट्री-फर्स्ट सॉल्युशन बनाने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और मशीन लर्निंग जैसी एडवांस टेक्नोलॉजी का लाभ कैसे उठाया।ब्रांड फिल्मों की बात करते हुए एंजेल ब्रोकिंग लिमिटेड के चीफ डेवलपमेंट ऑफिसर श्री प्रभाकर तिवारी ने कहा, “सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर रिलीज की गई ब्रांड फिल्में युवा मिलेनियल निवेशकों तक पहुंचने और उन्हें आसानी से व्यापार की पेशकश करने के हमारे प्रयास का एक हिस्सा हैं। हम उन्हें अपने नए ब्रांड नाम, ‘एंजेल वन’ से परिचित कराना चाहते हैं, जो बाजार के बारे में निवेशकों के नॉलेज के गैप को दूर करने वाली डिजिटल सर्विसेस की अधिकता प्रदान करता है।”

 

 

एआरक्यू प्राइम, स्मार्ट एपीआई, स्मार्ट स्टोर आदि जैसी पहल निवेशकों को किफायती दरों पर सर्विसेस का अधिकतम लाभ उठाने में सक्षम बना रही हैं। टेक्नोलॉजिकल इनोवेशन की अगली पीढ़ी पर लगातार फोकस बताता है कि कैसे एआई, मशीन लर्निंग और क्लाउड कंप्यूटिंग कंपनी को अपने फिनटेक भविष्य में लेकर जा रहे हैं, जहां वह सभी वित्तीय जरूरतों को पूरा कर सकेगा।

रीब्रांडिंग और ब्रांड फिल्मों के बारे में और उल्लेख करते हुए एंजेल ब्रोकिंग लिमिटेड के चीफ एक्जीक्यूटिव ऑफिसर श्री नारायण गंगाधर ने कहा, “हमारा (रीब्रांडिंग का) लक्ष्य खुद को वन-स्टॉप फिनटेक प्लेटफॉर्म के रूप में रीब्रांड करना है जो मिलेनियल्स की सभी वित्तीय जरूरतों को हल करें। ब्रांड फिल्मों के साथ हम इसी बात को अपने ऑडियंस तक पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं। यह फिल्में दिखाती हैं कि हमने कैसे पिछले वर्षों में बदलाव लाया है और एक एडवांस डिजिटल अनुभव प्रदान करने के लिए हमने एडवांस टेक्नोलॉजी का लाभ उठाया है। ”1996 में एक पारंपरिक ब्रोकिंग हाउस के रूप में स्थापित एंजेल ब्रोकिंग एक बेहतर डिजिटल अनुभव बनाने के लिए एक फिनटेक ब्रांड के रूप में विकसित हुआ। इसका बिल्कुल नया टेक्नोलॉजिकल अवतार आज की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए प्लेटफॉर्म बनाने के लिए कंपनी की प्रतिबद्धता को दिखाता है।

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account