फिर कांग्रेस में लौटे लवली

नई दिल्ली। दिल्ली के खासकर पूर्वी हिस्से में खास दखल रखने वाले नेता अरविंदर सिंह लवली एक बार फिर से कांग्रेस में शामिल हो गए हैं. दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रमुख अजय माकन और पीसी चाको ने कांग्रेस में लवली का स्वागत किया. अपनी इस ‘घर वापसी’ पर लवली ने कहा, ‘बीजेपी वैचारिक रूप से मेरे लिए फिट नहीं थी. मुझे अपनी पैरेंट पार्टी कांग्रेस में वापस लौटने की खुशी है.’ वहीं बीजेपी से जुड़ने के सवाल पर लवली ने कहा, ‘मेरे लिए (कांग्रेस छोड़ बीजेपी से जुड़ना) खुशी का निर्णय नहीं था. वह पीड़ा में लिया हुआ डिसिज़न था.’
पार्टी सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में लवली के दोबारा से पार्टी में लौटने का कार्यक्रम था, लेकिन किसी वजह से ऐसा नहीं हो पाया. कांग्रेस की ओर से आयोजित कार्यक्रम में अजय माकन ने लवली की पार्टी में वापसी कराई. पार्टी की सदस्यता हासिल करने के बाद अरविंदर सिंह लवली ने कहा, ‘मेरे लिए कोई खुशी का निर्णय नहीं था कांग्रेस छोड़कर बीजेपी ज्वाइन करना. पीड़ा में लिया गया फैसला था. वैचारिक रूप से मैं बीजेपी अनफिट था.’ अरविंदर सिंह लवली की कांग्रेस में वापसी पर कहा पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने कहा, ‘मुझे काफी अच्छा लग रहा है कि वह वापस आए हैं. उन्हें अहसास हुआ कि आखिरकार अपना घर ही अच्छा होता है.
हाल ही में अजय माकन ने पार्टी के पुराने नेताओं के साथ बैठक की थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि वह सभी साथ लेकर चलने में नाकाम रहे, जिसके चलते पिछले चुनावों में हार मिली है. उनके इस बयान पर पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने कहा था कि अजय माकन ने अपनी गलती सुधार ली है. पिछले साल लवली ने अजय माकन से नाराज होकर कांग्रेस का साथ छोड़ दिया था और 4 अप्रैल 2017 के दिन बीजेपी में शामिल हो गए थे. बीजेपी ज्वॉइन करने के बाद लवली ने कहा था कि उन्होंने अपने आत्मसम्मान के लिए कांग्रेस का साथ छोड़ा था. दिल्ली कांग्रेस के अध्यक्ष के तौर पर भी लवली अपनी सेवाएं दे चुके हैं.
लवली को दिल्ली की तीन बार मुख्यमंत्री रह चुकीं शीला दीक्षित का करीबी माना जाता है और उनकी सरकार में वह कई अहम जिम्मा संभाल चुके हैं. लवली ने पहली बार 1998 में विधानसभा चुनाव जीता था और तब से लगातार चार बार विधायक रह चुके हैं. लवली ने एक वक्त में कांग्रेस का दामन थामा है, जब धुर विरोधी मानी जाने वाली शीला दीक्षित और अजय माकन के बीच सुलह की कोशिशें चल रही हैं. पिछले दिनों माकन ने दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार के तीन साल पूरे होने के मौके पर उसकी नाकामियां गिनाने के लिए प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की. इस कॉन्फ्रेंस के लिए शीला दीक्षित को न्योता देने माकन खुद उनके घर गए थे.

दीप्ति अंगरीश

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account