युगांडा में महिला उद्यमी को बढ़ावा

नई दिल्ली। एम स एम इ मंत्रालय और अन वोमेन के सहयोग से महिला सशक्त वोमेनोवेटर [वर्चुअल इनक्यूबेटर] बनाना, महिलाओं के लिए 8 मार्च 2019 को 2019 का अभियान शुरू किया है, जिसका उद्घाटन वाणिज्य और उद्योग मंत्री और नागरिक उड्डयन मंत्री श्री सुरेश प्रभु द्वारा सफलतापूर्वक किया गया था, जिसने रिकॉर्ड एशिया की रिकॉर्ड बुक तैयार की 2018 में। वोमेनोवेटर ने होटल जेपी वसंत, वसंत विहार मे महिला उद्यमियों के लिए युगांडा के महामहिम के साथ एक विशेष बैठक आयोजित की। एजेंडा था “युगांडा में महिला उद्यमिता को
बढ़ावा देने के लिए वैश्विक महिला गठजोड़” जिसका उद्देश्य भारतीय महिला उद्यमियों को युगांडा और इसके विपरीत अपने व्यापार का विस्तार करने में मदद करना है। इस बैठक का उद्घाटन एच ग्रेस अकेलो, युगांडा के राजदूत, तृप्ति शिंगल सोमानी, संस्थापक वोमेनोवेटर, गौरव गुप्ता के साथ किया गया, जिसके प्रमुख अंतरराष्ट्रीय समिति ने सभी अतिथियों के साथ-साथ उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए पूर्व के स्वागत भाषण दिया।
श्रीमती तृप्ति   शिंगल सोमानी ने वोमेनोवेटर के बारे में सभी को अवगत कराया जो महिलाओं के लिए पहला वर्चुअल इन्क्यूबेटर है, जिन्होंने महिलाओं को एक मंच प्रदान करके महिला सशक्तीकरण के कारणों का समर्थन करने के लिए निर्धारित किया है, जिनके पास असाधारण विचार हैं, विकसित करने के लिए। उन्होंने युगांडा में विभिन्न अवसरों की प्रतीक्षा करने और स्थानीय श्रम को रोजगार देने के बारे में भी बात की, जो युगांडा की अर्थव्यवस्था को लाभान्वित करेगा और भविष्य में महिलाओं के प्रतिनिधिमंडल को देश में ले जाएगा। महामहिम ने युगांडा में विभिन्न क्षेत्रों के बारे में भी जोर दिया और भारत के साथ व्यापार शुरू करने का एक बड़ा अवसर हो सकता है। उन्होंने युगांडा में तेल उद्योग को विकसित करने के अपने प्रयासों, युगांडा में अच्छी निवेश जलवायु के बारे में भी बताया। उन्होंने युगांडा को एक मजबूत अर्थव्यवस्था में बदलने की महत्वाकांक्षाओं के बारे में भी बताया। वोमेनोवेटर के महिला प्रतिनिधियों ने बैठक के दौरान अपने उत्पादों और सेवाओं के बारे में बात की। इन महिला उद्यमियों ने इस ज्ञान और प्रतिक्रिया को भी इकट्ठा किया कि कैसे वे अपने कारोबार को अंतरराष्ट्रीय सीमाओं तक विस्तारित कर सकती हैं, चुनौतियों को समझने के साथ-साथ विदेशी बाजार के रुझान और देश की आर्थिक संस्कृति और मान्यताओं की झलक भी।

एडमिन

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account