कालीन से बढ़ाएं कमरों की खूबसूरती  

 

कालीन घर की इंटीरियर डिजाइनिंग का जरूरी हिस्सा हैं। किस कमरे के लिए किस तरह का कालीन सही रहेगा, घर की खूबसूरती के लिए इस सवाल का सही जवाब तलाश करना बेहद जरूरी है। आप अपने घर के लिए कैसा कालीन चुनती हैं, यह आपकी आवश्यकताओं और आदतों पर निर्भर करता है। घर के अलग-अलग कमरों के लिए चुने जाने वाले कालीन अलग-अलग तरह के होने चाहिए, जैसे दृ जिस तरह का कालीन आप लीविंग रूम में बिछाने जा रही हैं, ठीक वैसा ही किचन में इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

खरीदारी के समय

कालीन की खरीदारी करते समय कुछ बातों का खास ख्याल रखना चाहिए, जैसे मटीरियल।

–     बाजार में कई तरह के मटीरियल से बने कालीन उपलब्ध हैं, जैसे – वूल, सिल्क, सिंथेटिक, जूट, पॉलिस्टर और कॉटन।

–     वूलन से बने कालीन खरीदने से पहले मटीरियल की क्वॉलिटी की खासतौर पर जांच कर लेनी चाहिए। सिल्क से बने कालीन देखने में बेहद सुंदर दिखाई देते हैं, लेकिन इन्हें खरीदने से पहले यह सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि यह वास्तव में असली रेशम है। वैसे, रेशम से बने कालीन ऊन से बने कालीनों की तुलना में कम टिकाऊ होते हैं।

–     कालीन खरीदते समय फाइबर की मोटाई पर भी खास ध्यान दें। जितना मोटा कालीन, उतना ज्यादा आराम।

–     पहली दुकान से ही खरीदारी न करें। एक बार घूम कर बाजार में वैराइटियों का अंदाजा ले लें। कालीन लैंप की रोशनी तथा दिन में कैसा लगेगा, यह भी ठीक से जांच लें।

–     दूसरों के इंटीरियर से प्रभावित होकर अपने बजट से खिलवाड न करें। ट्रेंड समय के साथ बदलते रहते हैं। कोशिश करें कि ऐसे पीस चुनें जो लंबे समय तक उपयोगी और आकर्षक लगें।

कीमत

आमतौर पर कालीन खरीदना महंगा सौदा होता है, लेकिन इसमें बजट कालीन भी उपलब्ध हैं। अगर आप सस्ते कालीन खरीदना चाहती हैं, तो वूल या कॉटन के बने कालीन सही चॉइस होंगे। इस तरह के कालीन सिल्क से बने कालीन की तुलना में सस्ते होते हैं। दूसरी तरफ, ईरान के मखमली कालीन दिखने में जितने खूबसूरत होते हैं, उतने ही महंगे भी, इसलिए ये एक खास वर्ग के बीच सिमट कर रह गए हैं।

वैराइटी

–     परंपरागत वुलन कालीन के बजाय आज नए-नए डिजाइनों के सिल्क कालीन बाजार में छाए हुए हैं। सिल्क कालीन न केवल वजन में हल्के होते हैं, बल्कि इनके डिजाइन भी लोगों को खासा लुभा रहे हैं। कह सकते हैं कि सिल्क कालीन आज परंपरागत कश्मीरी वुलन कालीन की काफी हद तक जगह ले चुके हैं। सिल्क कालीन में आजकल जो डिजाइन सबसे ज्यादा चल रहा है, वह है ज्यॉमेट्रिकल डिजाइन।

–     सिंथेटिक कालीन और ईरान का मखमली कालीन भी लोगों को अच्छा खासा लुभा रहे हैं।

–     अलग-अलग देशों में तैयार किए जाने के कारण कालीन कई नामों से जाने जाते हैं, जैसे दृ इंडियन, पर्शियन, सेंट्रल एशियेटिक और टर्किश कारपेट। इन सभी की अपनी खूबियां हैं, खासकर डिजाइन को लेकर। इनके डिजाइनों में संबंधित देशों की संस्कृति की झलक मिलती है।

रंगों की बात

किस कमरे के लिए कौन-से रंग का कालीन सही रहेगा, यह भी सोच लेना चाहिए। कमरे के रंग के साथ कालीन का कलर मैच करे, तो कमरे की सुंदरता काफी बढ़ जाती है। कालीन सही रंग में ढला हो, तो छोटे कमरे को भी बड़ा दर्शा सकता है।

– हल्के रंग में बुने कालीन से कमरा बड़ा लगता है, जबकि गहरे रंग के कालीनों में अपना अलग आकर्षण होता है।

– अगर फर्नीचर के नीचे रखने के लिए कालीन ले रही हैं, तो फर्नीचर के रंग से मिलते-जुलते रंग का कालीन ही खरीदें।

– कालीन में आमतौर पर चटक रंग ही खिलते हैं। वैसे, बेडरूम में हल्के रंग के कालीन बिछाने का चलन है।

– घर के बाहरी हिस्सों में गहरे रंग के कालीनों का इस्तेमाल करना चाहिए। ये जल्दी गंदे भी दिखाई नहीं देते। घर के अंदर बनी सीढ़ियों पर भी गहरे रंग के कालीन बिछाना अच्छा आइडिया है।

– अगर कमरा छोटा है, न्यूट्रल रंग का कालीन इस्तेमाल कर सकती हैं, क्योंकि फर्श पर न्यूट्रल शेड का कालीन किसी भी किस्म की सजावट के साथ चल जाता है।

इस्तेमाल की सावधानियां

–     कालीन बिछाने से पहले अगर इसके नीचे फर्श पर अखबार बिछा दिए जाएं तो इसे नमी से बचाया जा सकता है।

–     अगर कालीन और दरी में किसी प्रकार के दागदृधब्बे लग गए हों तो उन्हें कार्बन टेट्राक्लोराइड की मदद से छुड़ाया जा सकता है।

–     अगर कालीन को बिछाने की बजाय कुछ समय के लिए संभालकर रखना हो, तो उसे रोल करके उसमें कपूर की गोलियां या नीम के पत्ते डालें।

–     कालीन को हफ्ते में एक दिन धूप में जरूर सुखाएं।

–     कालीन को हमेशा साफ रखें। इसके लिए वैक्यूम क्लीनर का इस्तेमाल करना सबसे सही तरीका है। कालीन साफ करने के खास ब्रश से भी इसकी सफाई की जा सकती है।

–     अगर कालीन बड़ा है, तो ड्राईक्लीनिंग ही एकमात्र उपाय है। यदि इसे घर में धोया जा सकता है, तो वाशिंग मशीन में या किसी की मदद से सॉफ्ट डिटर्जेंट से इसे धो सकती हैं।

 

दीप्ति अंगरीश

leave a comment

Create Account



Log In Your Account