साहित्य

नई दिल्ली / टीम डिजिटल। दिल्ली के इंस्टीट्यूटो सर्वेंटेस में पांचवें लांग नाइट ऑफ लिटरेचर्स के आयोजन ने साहित्य प्रेमियों ने हिस्सा लिया। इस अवसर पर आस्ट्रिया, चेक गणराज्य, डेनमार्क, फिनलैंड, फ्रांस, जर्मनी, हंगरी, आयरलैंड, इटली, पुर्तगाल, स्पेन, स्विट्जरलैंड और तुर्की के कई लेखक मौजूद थे। यूरोप के विभिन्न देशों के विविध लेखकों को एक मंच
Complete Reading

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल।  हिन्दी के प्रख्यात कवि रामधारी सिंह दिनकर राष्ट्रवाद के नायक थे। उनकी राष्ट्र भावना समिति नहीं थी। उनकी राष्ट्रीय चेतना संकीर्ण चेतना में नहीं बंधी थी। उनकी तमाम रचनाओं को जब हम पढ़ते हैं, तो यह बात स्वयमेव समझ में आ जाती है, वे बहुआयामी प्रतिभा के धनी थी। एक ओर
Complete Reading

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। राष्ट्रवाद के प्रखर कवि रामधारी सिंह दिनकर जी की जयंती के अवसर पर आयोजित व्याख्यानमाला और कवि सम्मेलन के दौरान हिन्दी भाषा अभियानी और द हिन्दी के प्रबंध संपादक श्री तरुण शर्मा को सम्मानित किया गया। राजधानी के हिन्दी भवन में आयोजित इस व्याख्यानमाला और कवि सम्मेलन का आयोजन स्वैच्छिक स्वयंसेवी
Complete Reading

नई दिल्ली / टीम डिजिटल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के अवसर पर प्रभात प्रकाशन उन पर लिखी एक नई पुस्तक लेकर आ रहा है। इस पुस्तक का नाम है ‘लॉर्ड ऑफ रिकॉर्ड्स’ और इसके लेखक हैं वरिष्ठ पत्रकार और प्रसिद्ध लेखक डॉ. हरीश चंद्र बर्णवाल। प्रधानमंत्री मोदी पर डॉ. बर्णवाल की यह चैथी पुस्तक
Complete Reading

नोएडा। नृत्य की भी अपनी कला होती है जिसमे आप अपने आपको बेहतर तरीके से एक्सप्रेस कर सकते है आज नृत्य के जरिए समाज की कुरीतियों को भी बखूबी दिखाया जा सकता है और अच्छाइयों को भी, पहले के नृत्य हमारी जातक कथाओ या कृष्ण लीलाओं पर ही ज्यादा फोकस किया जाता था लेकिन आप
Complete Reading

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के नेता और दिल्ली के पूर्व महापौर श्री महेश चंद्र शर्मा ने कहा कि सरकारी स्तर पर हिन्दी के नाम पर अधिकतर खाना पूर्ति होती है। हिन्दी पखवाड़ा और हिन्दी दिवस के अवसर पर सरकारी आयोजन होते रहे हैं, लेकिन किसी भी सरकार ने अब तक हिन्दी को राष्ट्रभाषा घोषित
Complete Reading

मिथिला में युग्म का बहुत अधिक महत्व है। कई गांवों के नाम हैं। कई संस्कार और लोकाचार भी युग्म में हैं।मैथिल विवाह संस्कार में आम-महु विवाह से अधिकाधिक लोग परिचित हैं। युग्म की परिकल्पना मिथिला में सदियों से चली आ रही है। यहां के लोक जीवन में लोग इसे आत्मसात कर चुके हैं। मिथिला लिटरेचर
Complete Reading

आजकल हर रोज सुबह अखबार पढ कर शक होता है कहीं यह अखबार पुराना तो नहीं ? फिर तारीख देखता हूं वह तो आज के दिन की होती है यह क्या ? यह रेप कांड तो कल भी हुआ था यह आग तो कल भी लगी थी आतंकवादियों ने कल भी किसी जवान को शहीद
Complete Reading

नई दिल्ली। सूचना एवं प्रसारण मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर ने आज राष्ट्रपति भवन में भारत छोड़ो आंदोलन की जयंती पर राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद को “महात्मा गांधी : चित्रमय जीवन गाथा” नामक पुस्तक भेंट की। इस पुस्तक में 550 तस्वीरों के जरिये महात्मा गांधी के जीवन और उनके समय की सचित्र कहानी प्रस्तुत की
Complete Reading

दरभंगा। मैथिली के चर्चित साहित्यकार, आकाशवाणी दरभंगा के संवाददाता एवं भारत निर्वाचन आयोग के दरभंगा जिला आइकॉन मणिकांत झा द्वारा मणिश्रृंखला अंतर्गत हिन्दी सिनेमा के सदाबहार गीतों की तर्ज पर मैथिली में रचित नचारी संग्रह ‘नचारीमणि’ का लोकार्पण सोमवार को माँ श्यामा केर दरबार में पं विष्णु देव झा विकल, चौधरी हेमचन्द्र राय, हीरा कुमार
Complete Reading

Create Account



Log In Your Account