प्रमुख सुर्खियाँ :

साहित्य

  गुरुग्राम । हिंदी में पत्रकारिता और साहित्य के बीच पुल बचाने की बहुत जरूरत है इस समय । यह कहना है प्रसिद्ध पत्रकार व टीवी विश्लेषक राहुल देव का । वे गुरुग्राम में व्यंग्य यात्रा व इंडियानेटबुक्स के संयुक्त तत्वावधान में कमलेश भारतीय के नव प्रकाशित कथा संग्रह यह आम रास्ता नहीं है, के
Complete Reading

दीप्ति अंगरीश 11 अक्टूबर का दिन भारतीय सामाज के लिए महत्वपूर्ण दिन है। इस दिन सदी की दो महान हस्तियों ने जन्म लिया। एक को लोक ने बना दिया लोकनायक तो दूसरे को बना दिया सदी का महानायक। जी हां 11 अक्टूबर को बिहार के सिताब दियारा में 1902 में जन्म हुआ जय प्रकाश नारायण
Complete Reading

डाॅक्टर धनंजय गिरि मनुष्य का आकलन इस आधार पर किया जाता है कि वह अपने देशकाल में और उसके बाद के समय में कैसा याद किया रहा है ? उसके विचारों की प्रासंगिकता कितने वर्षों तक है। इस हिसाब से देखा जाए तो लोकनायक जयप्रकाश नारायण अपने समय से अधिक आज प्रासंगिक हैं। उनके संपूर्ण
Complete Reading

पटना। मैथिली साहित्य के युग पुरुष पंडित गोविन्द झा आज अपना 100वां जन्मदिन मना रहे हैं. तक़रीबन 250 से ज्यादा पुस्तकों (प्रकाशित, अप्रकाशित) के रचनाकार आज भी उतना ही सक्रीय हैं जितना 1944 में जब उनकी पहली पुस्तक मालविकाग्निमित्र – संस्कृत से अनूदित, मैथिली साहित्य परिषद्, दरभंगा से प्रकाशित हो कर आई थी. 1944 से
Complete Reading

नई दिल्ली। हम सभी रोजाना बहुत कुछ देखते, सुनते व महसूस करते हैं। लेकिन कुछ ही उसे दिमाग में कैद कर उसका मंथन करते हैं। ऐसे वैचारिक भूख वाले लोग कम ही होते हैं। ऐसे लोग ही साहित्य प्रेमी होते हैं, जिन्हें लिखना, पढ़ना बहुत पसंद होता है। इस अटूट साहित्य प्रेम में राजनीतिक उठापटक
Complete Reading

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्म दिवस के अवसर पर आज देश भर में अनेक समारोह आयोजित किए जा रहे हैं। इसी क्रम में नई दिल्ली में केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता फग्गनसिंह कुलस्ते ने ‌’महानायक मोदी’ शीर्षक से प्रकाशित एक विचारोत्तेजक कृति का आम पाठकों के लिए उपलब्धता का
Complete Reading

खर्राटों की भाषा तुम सपनों में हिंदी बोते हो मैं हिंदी में सपने जगे उनींदे लोगों को समझा-फुसलाकर जगाना मत बतलाकर सुबह खबर चटपटी अखबार चटोरों को कानाफूसों को बात अटपटी हिंदी के घर सेंध लेकर सब कुछ चोर लापता लोग अचंभित स्तब्ध धर-पकड़ लाए गयों को देख ठोंक-बजा जांच-परख अरे ! खर्राटे भाषा नहीं
Complete Reading

पटना।  राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के द्वितीय सरसंघचालक माधवराव सदाशिवराव गोलवलकर ‘श्रीगुरुजी’ के प्रेरणाप्रद जीवन पर केंद्रित एक पपुस्तक ‘नूतन सदी के नवनीत: श्रीगुरुजी’ का लोकार्पण आज पटना में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्षेत्रीय प्रचारक रामदत्त चक्रधरजी ने किया। लोकार्पण समारेाह में मुख्य अतिथि के रूप में बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और विशिष्ट
Complete Reading

रोहित कुमार झा हमारे बहुत सारे राष्ट्रीय प्रतीक हैं जैसे भारत का राष्ट्रीय पशु बाघ राष्ट्रीय पुष्प कमल राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा राष्ट्रीय नदी गंगा लेकिन राष्ट्रभाषा क्या ……..? भारतीय संविधान के अनुच्छेद 343 (1)के अनुसार देवनागरी लिपि में लिखित हिंदी भारत की राजभाषा (ऑफिशियल लैंग्वेज) है ।हिंदी को भारत की राजभाषा के रूप में 14
Complete Reading

  नई दिल्ली। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन 17 सितंबर को है। राजनीतिक रूप से इस दिन कई कार्यक्रमों का आयोजन होता है। इस बार आईएफडब्लूजे के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और डिजियाना मीडिया समूह के सलाहकार श्री कृष्णमोहन झा अपनी नई पुस्तक “महानायक मोदी” का विमोचन इसी दिन करने जा रहे हैं। वे बीते ढाई
Complete Reading

Create Account



Log In Your Account