प्रमुख सुर्खियाँ :

यौन उत्पीड़न के खिलाफ जागरूकता मार्च का आयोजन

नई दिल्ली। यौन उत्पीड़न किसी भी सूरत में रुकना चाहिए। इसके लिए कई संस्थाएं लगातार प्रयास कर रही हैं। इसी कड़ी में समाधान की ओर से एक जागरूकता मार्च निकाला गया, जिसमें काफी संख्या में लोगों ने भाग लिया। शांति मार्च निर्भया बस स्टैंड से शुरू होकर मुनिरका के व्यस्त बाजार से होता हुआ गाँव में गया और फिर पार्क में आकर समाप्त हुआ। इस शांति मार्च में आईआईंटी विद्यार्थियों ने काफी जोश के साथ भाग लिया। साथ ही समाज के सभी प्रकार के लोगों ने भी बढ़ा चढ़ा कर इसमें हिस्सा लिया।
समाधान अभियान की डायरेक्टर अर्चना अग्निहोत्री का मानना है कि हमें बाल यौन उत्पीड़न से निपटने के लिए एक समग्र दृष्टिकोण रखना होगा। यह एक गंभीर समस्या है। मैं चाहती हूं कि समाज के सभी वर्ग इस प्रयास में सहयोग दें। बता दें कि समाधान अभियान की स्थापना वर्ष 2015 में सार्वजनिक भागीदारी के माध्यम से सशक्तिकरण के आदर्श वाक्य के साथ की गई थी। बाल अधिकार के क्षेत्र में समाधान अभियान, अच्छे और बुरे स्पर्श के प्रावधानों पर शिक्षकों, सभी आयु वर्ग के बच्चों के लिए बच्चों और माता-पिता के लिए कार्यशाला का आयोजन करके बाल यौन शोषण की रोकथाम पर जागरूकता फैलाने का प्रयास करता है। अभी तक लगभग 100 कार्यशालाओं के माध्यम से पचास विद्यालय में 20,000 से अधिक छात्रों को संबोधित किया गया है।

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account