प्रमुख सुर्खियाँ :

शहर में फिर नहीं होंगे धुंध जैसे हालात

नई दिल्ली । केन्द्र इस बात पर कृत-संकल्प है कि दिल्ली में फिर से जहरीली धुंध जैसी स्थिति पैदा नहीं होने दी जाएगी. यह जानकारी देते हुए पर्यावरण सचिव सी. के. मिश्रा ने कहा कि इसके लिए किसी एक प्राधिकार को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता है. WWF भारत की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान मिश्रा ने कहा कि यदि इस संबंध में कठोर कदम उठाने पड़े तो ‘‘वैसा ही किया जाएगा.’’ संस्था ने सोमवार को ‘‘भारत के एसएमई क्षेत्र में स्वच्छ ऊर्जा नवोन्मेषी पारिस्थितिकी’’ पर अपनी रिपोर्ट जारी करने के लिए कार्यक्रम का आयोजन किया था. मिश्रा ने कहा, ‘‘हाल ही में हमने दिल्ली में धुंध देखी, लेकिन किसी एक प्राधिकार को इसके लिए जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता. यदि सरकार असफल हुई है, तो ऐसे में जो लोग उत्सर्जन (प्रदूषण फैला) कर रहे हैं उन्हें जिम्मेदारी लेनी चाहिए.’’ उन्होंने कहा कि पर्यावरण संबंधी समस्याओं का समाधान करने की दिशा में सरकार के प्रयासों को सफल बनाने के लिए व्यक्तिगत प्रयासों को एकसाथ जोड़ना होगा. गौरतलब है कि जलवायु परिवर्तन का विभाग भी मिश्रा के पास ही है. उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन बतौर सरकार, हम फिर से दिल्ली में धुंध जैसे हालात पैदा नहीं होने देने को लेकर कृत-संकल्प हैं. और हम सिर्फ राष्ट्रीय राजधानी नहीं, बल्कि पूरे देश के लिए चिंतित हैं.’’ मिश्रा ने कहा, ‘‘यदि इसे सुनिश्चित करने के लिए कठोर कदम उठाने पड़े तो, ऐसा ही किया जाएगा . क्योंकि हम मानव जीवन की कद्र करते हैं.’’

 

साभार: जी न्यूज

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account