डीएचएल ने पूरे भारत में लॉन्च किया नवोन्मेशी सड़क परिवहन

नई दिल्ली। प्रमुख मेल और लॉजिस्टिक्स कंपनी डॉयचे पोस्ट डीएचएल ग्रुप (डीपीडीएचएल) ने बुधवार को भारत में एक व्यापक लाइनहॉल एक्सप्रेस रोड नेटवर्क में एक नवोन्मेशी ट्रकिंग समाधान मुहैया कराने के लिए डीएचएल स्मारट्रकिंग लॉन्च करने की घोषणा की। डीएचएल स्मारट्रकिंग इस वर्ष अप्रैल में लॉन्च किए गए नए बनाए गए बोर्ड डिपार्टमेंट कॉरपोरेट इन्क्यूबेषंस के अंतर्गत पूरी दुनिया में प्रौद्योगिकी आधारित लॉजिस्टिक्स समाधान के विकास को बढ़ावा देने का कंपनी का पहला आधिकारिक कदम है। कंपनी ने नीरज बंसल को डीएचएल स्मारट्रकिंग का सीईओ नियुक्त किया है जो भारत में कंपनी की वृद्धि को बढ़ावा देने के लिए जिम्मेदार होंगे। जॉरजेन जर्डेस, बोर्ड मेम्बर फॉर कॉरपोरेट इन्क्यूबेषंस, डॉयचे पोस्ट डीएचएल ग्रुप ने कहा कि भारत डॉयचे पोस्ट डीएचएल ग्रुप के लिए अविष्वसनीय रूप से एक महत्वपूर्ण बाजार है। फिलहाल सड़क ढुलाई में अधिकतर ढुलाई गतिविधि शामिल है और यह भारत में सबसे बड़ी परिवहन श्रेणी है। उन्होंने कहा कि डीएचएल स्मारट्रकिंग की ओर से बेहतर कुषलता के साथ हम 1,00,000 टन कार्गो की ढुलाई और हर दिन पूरे भारत में 40 लाख से अधिक किलोमीटर दूरी तय करने की उम्मीद करते हैं।
मैल्कम मॉन्टेइरो, सीईओ, डीएचएल ई-कॉमर्स इंडिया ने कहा कि यह परिवहन मॉडल न सिर्फ कुषलता बढ़ाता है बल्कि चालकों के बीच थकान भी कम करता है जो सड़कों पर कम समय बिताते हैं जिससे उन्हें दो से तीन दिनों में अपने परिवारों के लिए अपने घर जाने का मौका मिलता है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा 2016 से 2020 तक भारत में तापमान नियंत्रित परिवहन की मांग प्रति वर्श 15 फीसदी की दर से बढ़ने का अनुमान हैख्1,। डीएचएल स्मारट्रकिंग भारत में हमारे ग्राहकों को उपभोक्ताओं की जरूरतें पूरी करने के लिहाज से विस्तार करने और अपने कारोबारी परिचालन को सरल बनाने का मौका देता है।
अंतरराष्ट्रीय मानकों के मुताबिक तापमान नियंत्रण क्षमताओं के साथ डीएचएल स्मारट्रकिंग और तापमान नियंत्रित उत्पादों के लिए डीएचएल स्मारट्रकिंग कोल्डचेन जैसे समाधान सभी क्षेत्रों के लिए सड़क ढुलाई समाधान मुहैया कराते हैं जिनमें आॅटोमोटिव, डेयरी, ई-कॉमर्स, पैकेटबंद खाना, दवाओं और क्विक सर्विस रेस्टोरेंट्स उद्योग षामिल हैं। वहीं, नीरज बंसल, सीईओ, डीएचएल स्मारट्रकिंग ने कहा कि डीएचएल स्मारट्रकिंग द्वारा टेकलॉग पर जोर दिए जाने से भारत में हमारे ग्राहकों के लिए खेल पूरी तरह बदल जाएगा। उन्होंने कहा कि भारत के लॉजिस्टिक्स पारितंत्र में ढांचागत सुधारों की संभावना का लाभ उठाकर और डीएचएल स्मारट्रकिंग के माध्यम से हमारे नवोन्मेशों के साथ हम भारतीय कारोबारों को ग्राहकों और बाजारों तक तेजी से और सुरक्षित ढंग से पहुंचने में मदद कर सकते हैं।

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account