किसी भी अक्षम की अनदेखी नहीं करें : सुधा चंद्रन

जयपुर। नारायण सेवा संस्थान ने अपने बहुप्रतीक्षित कार्यक्रम दिव्य 2018 के तहत गुलाबी शहर जयपुर में रवींद्र रंगमंच पर एक फैशन और टैलेंट शो का आयोजन किया। शो के प्रतिभागियों को प्रेरित करने के लिए, बॉलीवुड अभिनेत्री और कलाकार सुधा चंद्रन भी इस दौरान उपस्थित रहीं और उन्होंने दिव्यांग रॉकस्टार्स का हौसला बढ़ाया। नारायण सेवा संस्थान के अध्यक्ष  प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि इन अद्भुत प्रतिभागियों के लिए सिलाई मशीन पर परिधानों को डिजाइन करने और पूरे भरोसे के साथ रैंप पर अपने डिजाइनों को प्रदर्शित करने का यह कौशल उतना आसान नहीं था, जितना उन्होंने आज मंच पर दिखाया। यह सिर्फ उनके साहस और आत्मविश्वास के कारण संभव हो पाया है कि जहां भी हमने इस शो का आयोजन किया है, नारायण सेवा संस्थान ने वहां मौजूद विशाल श्रोता वर्ग का दिल जीता है।
फैशन शो के दौरान मुख्य तौर पर चार राउंड आयोजित किए गए- कैलिपर्स के साथ फैशन राउंड, व्हीलचेयर के साथ फैशन राउंड, क्रचिज के साथ फैशन राउंड और आर्टिफिशियल लिम्स के साथ फैशन राउंड। हरेक राउंड में 10 मॉडल्स ने रैंप वॉक किया। प्रत्येक दिव्यांग की सहायता के लिए एक को-मॉडल भी रैंप पर मौजूद रहा। इन विशेष रूप से सक्षम मॉडल के चमकते चेहरों ने पूरी गरिमा और शान के साथ उनके उस आत्मविश्वास को व्यक्त किया, जिसके बल पर उन्हें मुख्यधारा में शामिल माना जाता है।
भारत नाट्यम डांसर और बॉलीवुड अभिनेत्री सुधा चंद्रन ने इस मौके पर कहा कि अक्षमता वाले किसी शख्स को कभी नजरअंदाज न करें क्योंकि हमें नहीं पता कि वे कितना प्रेरित कर सकते हैं। नारायण सेवा संस्थान सबसे अच्छे गैर-लाभकारी संगठनों में से एक है। यह सिर्फ चिकित्सा सहायता प्रदान नहीं कर रहा है बल्कि उन्हें जीवन में आगे बढने में भी लगातार मदद करता है। शो के दौरान दिव्यांग लोगों के शानदार प्रदर्शन ने मेरे दिल को छुआ है और इससे मैं बहुत प्रेरित हुई हूं। सभी प्रतिभागियों को मेरी शुभकामनाएं और दुआ करती हूं कि वे अपने जीवन की यात्रा में नए मुकाम हासिल करें।
उल्लेखनीय है कि नारायण सेवा संस्थान दिव्यांग लोगों के लिए 1100 बिस्तर वाला अस्पताल चलाता है, जहां यह विशेष रूप से सक्षम लोगों को शारीरिक रूप से फिट बनाने के लिए प्रमुख सर्जरी की सुविधा उपलब्ध कराता है। इससे भी आगे बढकर यह अपने वोकेशनल कार्यक्रमों के माध्यम से ऐसे लोगों को अपना कौशल विकसित करने में और उनके लिए रोजगार तलाश करने में भी उनकी मदद करता है। नारायण सेवा संस्थान के परिसर में एक कौशल केंद्र है जहां सिलाई के काम का प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है। इन प्रशिक्षित दिव्यांग व्यक्तियों ने विशेष रूप से सक्षम मॉडल द्वारा रैंप पर प्रदर्शन करने के लिए बेहतरीन परिधान डिजाइन किए हंै।

एडमिन

leave a comment

Create Account



Log In Your Account