प्रमुख सुर्खियाँ :

आर्थिक प्रगति के लिए उद्यमशीलता का विकास आवश्यक

नई दिल्ली। लक्ष्मी मित्तल साउथ एशिया इंस्टीट्यूट, हार्वर्ड यूनिवर्सिटी ने ‘’भरोसा एवं रचनात्मकता, विकासशील देशों में उद्यमशीलता के विकास’’ पर एक ओपन हाउस का आयोजन किया। यह दिल्ली में इसके भारतीय हेडक्र्वाटर की शुरुआत के लिए योजनाबद्ध किए गए आयोजनों में अंतिम था। लक्ष्मी मित्तल साउथ एशिया इंस्टीट्यूट, हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के डायरेक्टर, प्रो. तरुण खन्ना तथा हार्वर्ड बिज़नेस स्कूल के प्रोफेसर, जाॅर्ज पाउलो लेमान ने विकासशील देशों में उद्यमशीलता को प्रोत्साहन देने के विविध पक्षों के बारे में बताया। माननीय सिविल एविएशन राज्यमंत्री एवं पूर्व इन्वेस्टमेंट फंड मैनेजर व मैनेजमेंट कंसल्टैंट, श्री जयंत सिन्हा ने इस चर्चा में हिस्सा लिया और प्रश्नोत्तर सत्र का संचालन किया। एलएम साई इंडिया आॅफिस इस क्षेत्र में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी का सीधा संपर्क स्थापित करने के नए युग की शुरुआत करेगा।
हार्वर्ड बिज़नेस स्कूल में दो दशकों से अधिक समय से प्रो. खन्ना विकसित होते देशों में आर्थिक व सामाजिक विकास के माध्यम के रूप में उद्यमशीलता का अध्ययन कर रहे हैं। उन्होंने दक्षिण एशिया में समस्त पक्षों के अध्ययन व शोध के लिए लक्ष्मी मित्तल साउथ एशिया इंस्टीट्यूट की प्रतिबद्धता तथा कला, सामाजिक उद्यमशीलता एवं लाईफ साईंसेस में प्रमुख भारतीय संस्थानों के साथ इसकी पार्टनरशिप के बारे में बताया। श्री सिन्हा ने बताया कि उद्यमशीलता किस प्रकार भारत जैसे विकासशील देशों की आर्थिक प्रगति करने में समर्थ है।
प्रो. श्री तरुण खन्ना, डायरेक्टर – द लक्ष्मी मित्तल साउथ एशिया इंस्टीट्यूट, हार्वर्ड यूनिवर्सिटी ने कहा, ‘‘हमारा मानना है कि उद्यमशीलता को बढ़ावा देने से हमारे देश को युवाओं के लिए विभिन्न संभावनाओं के द्वारा खोलकर प्रगति करने में मदद मिलेगी। लक्ष्मी मित्तल साउथ एशिया इंस्टीट्यूट, हार्वर्ड यूनिवर्सिटी दक्षिण एशिया के क्षेत्र में शोध के माध्यम से ज्ञान के प्रसार, क्षमता निर्माण, पाॅलिसी की जानकारी देने और उस समस्याओं से रूबरू होने के लिए समर्पित है, जो आज दक्षिण एशिया को आकार दे रही हैं। आज का ओपन हाउस एलएम साई द्वारा योजनाबद्ध की गई मासिक सेमिनार की श्रृंखला का हिस्सा है, जिसके माध्यम से वैचारिक नेतृत्वकर्ताओं के बीच ज्ञान का प्रसार किया जाता है। मेरा मानना है कि ये ईवेंट महत्वपूर्ण समस्याओं पर विचारों के आदान-प्रदान को बढ़ावा देकर नीति निर्माताओं को सकारात्मक जानकारी प्रदान करेंगी।’’
लक्ष्मी मित्तल साउथ एशिया इंस्टीट्यूट, हार्वर्ड यूनिवर्सिटी, हार्वर्ड में विभिन्न यूनिवर्सिटीज़ में विस्तृत शोध संस्थान है, जिसमें दक्षिण एशिया से संबंधित वैश्विक समस्याओं पर टीचिंग एवं शोध को बढ़ावा देने के लिए इंटरडिसिप्लिनरी कार्यक्रमों द्वारा फैकल्टी एवं विद्यार्थियों को संलग्न किया जाता है। वर्तमान में भारत में लक्ष्मी मित्तल साउथ एशिया इंस्टीट्यूट कला, सामाजिक विज्ञान और शुद्ध विज्ञान से संबंधित कार्यक्रम/शोध परियोजनाएं भारत में चला रहा है। एलएम साई अफगानिस्तान, बांग्लादेश, भूटान, भारत, मालदीव्स, म्यनमार, नेपाल, पाकिस्तान और श्रीलंका तथा इन देशों के नागरिकों के साथ हार्वर्ड के संपर्कसेतु के रूप में काम करता है।

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account