नई तकनीक से चंद घंटे में खुलेगा चालू खाता

नई दिल्ली। आईसीआईसीआई बैंक ने स्मार्टफोन्स व टेबलेट्स पर डिजिटल एप्लिकेशन सुविधा लाॅन्च की। इस सुविधा की मदद से बैंक के कर्मचारी स्वरोजगारी व्यक्तियों एवं व्यवसायों का चालू खाता मात्र कुछ घंटों में खोल सकते हैं, जबकि इंडस्ट्री में इसे खोलने में औसतन कुछ दिन लग जाते हैं। इस अनूठे डिजिटल खाता खोलने वाले एप्लिकेशन की मदद से, बैंक के कर्मचारी अब ग्राहक एवं व्यवसाय से जुड़ी जानकारी डिजिटल तरीके से ले सकते हैं और ग्राहक के ही आवास या कार्यालय पर सुविधाजनक एवं सुरक्षित तरीके से रियल टाईम आधार पर केवाईसी दस्तावेजों का सत्यापन कर सकते हैं। इस सुविधा के साथ, अब ग्राहक बैंक में तीव्र एवं आसानीपूर्वक खाता खोल सकते हैं, और इसके लिए लंबी-चैड़ी कागजी-कार्यवाही करने की भी जरूरत नहीं, जैसे-फिजिकल फोटोग्राफ और उनके व उनकी फर्म के केवाईसी दस्तावेजों की छायाप्रतियां।
यह अपने तरह की अनूठी डिजिटलीकरण प्रक्रिया है। इस सुविधा का उपयोग कर विभिन्न तरह के व्यवसायों के लिए कुछ घंटों के भीतर चालू खाते खोले जा सकते हैं, जैसे-प्रोप्रायटरशिप, पार्टनरशिप, प्राइवेट एवं पब्लिक लिमिटेड कंपनियां और लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनरशिप्स फर्म व अन्य। यह डिजिटल एप्लिकेशन उत्कृष्ट तकनीक जैसे ‘आॅप्टिकल कैरेक्टर रिकाॅग्निशन’ (ओसीआर) से सुसज्जित है, जो दस्तावेजों के लिखित कैरेक्टर्स की पहचान करता है और उन्हें निर्बाध रूप में एवं सटीकतापूर्वक डिजिटल एप्लिकेशन में अपने आप संग्रहित करता है। यह मल्टीपल इनोवेटिव ‘एप्लिकेशन प्रोग्राम इंटरफेस’ (एपीआई) का भी उपयोग करता है, जिसकी मदद से एप्लिकेशन सरकारी डेटाबेस जैसे-नेशनल सिक्योरिटीज डिपाॅजिटरी लिमिटेड (एनएसडीएल), आधार और इंपोर्ट एक्सपोर्ट कोड (आईईसी) व अन्य पर सार्वजनिक रूप से उपलब्ध जानकारी से रियल टाईम आधार पर व्यक्ति एवं व्यवसाय से जुड़े केवाईसी दस्तावेजों का वैधांकन करता है। डिजिटल एप्लिकेशन की ये सभी इनोवेटिव विशेषताएं बैंक को सक्षम बनाती हैं कि वो कुछ घंटों के भीतर चालू खाता खोलकर ग्राहक को बेहतर सुविधा प्रदान कर सके। तकनीकी उद्यमों के साथ उत्साहजनक सहयोगों की दिशा में प्रमाण के तौर पर, इस खोजपरक समाधान को आईसीआईसीआई बैंक के उत्कृष्ट नवाचार केंद्र में बैंक द्वारा तैयार किये गये फिनटेक के सहयोग से तैयार किया गया है।
इस पहल के बारे में, आईसीआईसीआई बैंक की प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी, सुश्री चंदा कोछर ने कहा, ‘‘आईसीआईसीआई बैंक ने डिजिटल नवाचार करने हेतु और अपने ग्राहकों को विश्वस्तरीय बैंकिंग अनुभव प्रदान करने हेतु हमेशा से तकनीक का प्रभावी रूप में इस्तेमाल किया है। इस सोच के अनुरूप, हमें डिजिटल तरीके से चालू खाता खोलने की देश की पहली प्रक्रिया को लाने की खुशी है। यह अनूठा प्रस्ताव कुछ घंटों में चालू खाता खोलने के एक ‘नये युग’ का सूत्रपात करता है, जबकि पहले चालू खाते खोलने में कुछ दिन लग जाते थे। हमारा मानना है कि जब व्यवसाय एवं संगठन बैंकिंग सहयोगी की तलाश करते हैं, तो ‘आसानीपूर्वक व्यवसाय करना’ एक प्रमुख पैमाना होता है। इस हेतु, हम बिजनेस बैंकिंग जगत में तकनीक का प्रभावी तरीके से उपयोग कर रहे हैं, ताकि बेजोड़ तीव्रता एवं आसानीपूर्वक व्यवसाय करने की सुविधा प्रदान कर सकें। हमें विश्वास है कि इससे हमें अपने चालू खाता एवं बिजनेस बैंकिंग पोर्टफोलियो को इंडस्ट्री की तुलना में काफी तेजी से बढ़ाने में मदद मिलेगी, और इस प्रकार हम अपनी बाजार हिस्सेदारी बढ़ा सकेंगे।’’

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account