प्रमुख सुर्खियाँ :

Investment का शानदार तरीका है IPO

नई दिल्ली। निवेश यात्रा का आगाज कई कारणों से निवेश आरंभ करने वाले लोगों के लिए चुनौतीपूर्ण होने के साथ-साथ जरूरतों को पूरा करने वाला भी हो सकता है। असाधारण रिटर्न और अत्यधिक सफल निवेश की कहानियों के कारण शेयर बाजार अक्सर निवेशकों का ध्यान आकर्षित करते हैं। हालांकि, निवेश शुरू करने वाले लोग शेयर बाजार में निवेश से जुड़े जोखिमों को भी समझते हैं। शेयर बाजार में अनुभव हासिल करने के लिए प्रारंभिक पूंजी को ‘गंवाने’ की बजाय आईपीओ जैसे आदर्श निवेश माध्यम को ध्यान में रखना महत्वपूर्ण है।

ऐसे कई कारण हैं, जिनकी वजह से किसी व्यक्ति की निवेश यात्रा शुरू करने के लिए आईपीओ को सबसे अच्छा तरीका माना जाता है। भले ही एक शुरुआत करने वाले को आईपीओ में पैसा लगाते समय लापरवाह दृष्टिकोण नहीं अपनाना चाहिए, लेकिन अच्छे से विचार कर फैसला लिया जाए तो ये निवेश माध्यम काफी फायदे वाला साबित हो सकता है।

जैसा कि पहले बताया गया है, बिगिनर्स अपनी निवेश यात्रा शुरू करने के लिए आईपीओ का विकल्प चुन सकते हैं। हालांकि, आईपीओ में निवेश का चयन करते समय पूरी समझदारी से निर्णय लेना आवश्यक है। किसी भी कंपनी का आईपीओ चुनते समय निवेश आरंभ करने वाले को बेहतर कॉरपोरेट गवर्नेंस, दीर्घकालिक दृष्टिकोण और कंपनी के प्रबंधन की गुणवत्ता को ध्यान में रखना चाहिए। इसके अलावा, किसी कंपनी की तरफ से अपनाए जाने पर निवेश से संबंधित निर्णय लेते समय विवाद या अकाउंटिंग की आक्रामक प्रक्रियाओं जैसी खतरनाक स्थितियों पर भी विचार करना चाहिए।

आईपीओ की संख्या लगातार बढ़ रही है

चालू वर्ष (2021) में भारतीय निवेशकों ने कई आईपीओ देखे हैं, जिनमें स्टार्ट-अप और कुछ स्थापित ब्रांड शामिल हैं। यह बढ़ी हुई संख्या बिगिनर्स को विविध क्षेत्रों और पूंजीकरण सहित विकल्पों की एक विस्तृत श्रृंखला में से चुनने का मौका देती है। इसलिए, जोखिम लेने की क्षमता और निवेश लक्ष्यों के आधार पर, निवेशक एक या अधिक उपलब्ध आईपीओ में पैसा लगा सकते हैं।

 

Less Risk बिगिनर्स के लिए

लापरवाह और बेखबर निवेश प्रक्रियाओं के कारण पूरी निवेश पूंजी को गंवाना बिगिनर्स की निवेश यात्रा की एक सामान्य विशेषता है। निवेश की शुरुआत करने वाले लोग दोस्तों, परिवारों और यहां तक कि कुछ अवांछित स्रोतों जैसे कि यूट्यूब चैनलों की सलाह को मानते हुए और जल्दी पैसा कमाने की उम्मीद के साथ काफी राशि का निवेश कर सकते हैं। एफएंडओ और पेनी स्टॉक में पैसा लगाने में उच्च जोखिम शामिल है और यह किसी व्यक्ति को आर्थिक रूप से नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए, आईपीओ एक तुलनात्मक रूप से सुरक्षित विकल्प है (उल्लिखित की तुलना में) क्योंकि इसमें पूरे निवेश को गंवाने की आशंका अपेक्षाकृत कम है।

 

आईपीओ स्टार्ट-अप्स

बिगिनर्स को यह समझना चाहिए कि आईपीओ कंपनी के स्टॉक की शुरुआती पेशकश है। इसे बाजार में एक स्टार्ट-अप या एक स्थापित ब्रांड द्वारा पेश किया जा सकता है। इसलिए, वित्तीय विकास से जुड़े रहने के लिए, आईपीओ निवेशकों को एक उत्कृष्ट अवसर प्रदान करते हैं। Angel One इसलिए, यदि बाजार संकेतक किसी कंपनी की अपेक्षित वृद्धि के बारे में आशावादी हैं, तो आईपीओ संबंधित संगठन (या कंपनी) से जुड़ने का एक सही तरीका हो सकता है।

 

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account