अर्जुन-सरयू के घर पक रही है खिचडी ?

रांची। सूबे में लागू स्थानीय नियोजन नीति के खिलाफ नाराज चल रह भाजपा के कई विधायकों ने पूर्व सीएम अर्जुन मुंडा और संसदीय कार्यमंत्री सरयू राय से मुलाकात कर अपनी व्यथा सुनायी। इसके साथ ही सभी नाराज विधायकों के दिल्ली जाने की भी चर्चा जोरो पर होने लगी है। पिछले दिनों ही सदन की कार्यवाही समाप्त होने के साथ संसदीय कार्य मंत्री सरयू राय के पद छोड़ने की बात से राजनीतिक सरगर्मी बढ़ गयी है। बजट सत्र के दौरान ऐसी कई चीजे देखने को मिलीं जिससे साफ जाहिर होता है कि बीजेपी के कई मंत्री व विधायक सीएम रघुवर दास से खुश नहीं है. स्थानीय नीति और नियोजन नीति में बदलाव को लेकर बीजेपी के 24 विधायकों ने नाराजगी जतायी. संसदीय कार्य मंत्री सरयू राय की रघुवर दास को चिट्ठी के बाद तो सत्ताधारी दल के भीतर चल रही नाराजगी और साफ हो गयी है. सरयू राय ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि उन्हें संसदीय कार्यमंत्री के पद से हटा दिया जाए. अब सत्ता पक्ष के विधायक गोलबंद भी होने लगे हैं. रघुवर दास के खिलाफ दिल्ली तक शिकायत करने की तैयारी की जा रही है. मामले को लेकर आठ विधायकों ने आज मंत्री सरयू राय से मुलाकात की. सरयू राय से मिलने के बाद विधायक अर्जुन मुंडा से भी मिले.
दोनों जगहों पर हुई विधायकों की बैठक को लेकर किसी भी विधायक ने अॉन रिकॉर्ड कुछ भी कहने से इंकार किया है. पर सरयू राय और अर्जुन मुंडा के घर पर हुई बैठकों के बाद सियासी गलियारे में सरकार और भाजपा के भीतर चल रही खींचतान की चर्चा शुरु हो गयी है. कयास लगाए जा रहे हैं कि आने वाले कुछ दिनों में झारखंड की राजनीति में कुछ बड़ा खेल देखने को मिल सकता है.
भाजपा के 24 विधायक स्थानीय-नियोजन नीति को राज्यहित में नहीं होने की बात पर जोर देते हुए सीएम और विधान सभा अध्यक्ष को पत्र लिखा है। इसके बाद अब बुधवार को फिर से भाजपा के कई विधायकों का अर्जुन मुंडा से मुलाकात की बात राजनीतिक गलियारे में चर्चा को नये रूप के तौर पर देखा जा रहा हैै। हालांकि इन विधायकों ने इस मुलाकात को शिष्टाचार मुलाकात बताया है। इधर, श्री मुंडा ने अकेले में रांची स्थित आवास पर भाजपा विधायकों के साथ एक घंटे की बैठक की। मुंडा से मिलने वाले विधायकों में ताला मरांडी, शिवशंकर उरांव, साधुचरण महतो, लक्ष्मण टुडू, जयप्रकाश वर्मा, मेनका सरदार, विमला प्रधान और गंगोत्री कुजूर समेत कई विधायक थे। मुलाकात के बाद भाजपा विधायकों ने मुस्कुराते हुए इस मुलाकात को शिष्टाचार मुलाकात बतायी। उन्होंने कहा कि विधानसभा का बजट सत्र सात कार्यदिवस पहले कल ही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित हो गया, इसलिए उनलोगों के पास समय था और क्षेत्र में वापस लौटने के पहले आज अर्जुन मुंडा से मुलाकात की। इन विधायकों ने इस मुलाकात को सामान्य बताते हुए कहा कि अर्जुन मुंडा पार्टी के वरिष्ठ नेता है और वरिष्ठ नेताओं से मिलने-जुलने का सिलसिला लगा रहता था।
इससे पहले मुख्यमंत्री रघुवर दास से कथित रूप से नाराज चल रहे इन विधायकों ने मंत्री सरयू राय से भी मुलाकात की। मंत्री सरयू राय आगामी चार फरवरी को दिल्ली जा रहे है। उनके दिल्ली जाने की वजह एक शादी समारोह में भाग लेना बताया जा रहा है, लेकिन चर्चा है कि श्री राय दिल्ली जाकर आलाकमान से सूबे के वर्तमान राजनीतिक परिदृश्यों पर चर्चा करेंगे। माना जा रहा है कि वह केन्द्रीय नेताओं के समक्ष उन तमाम बातों को रखेंगे जिसपर उन्होंने सीएम को पत्र लिखकर आपत्ति जतायी है।

 

 

सुभाष चन्द्र

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account