प्रमुख सुर्खियाँ :

मुम्बई किसके बाप की ?

नई दिल्ली।  फैशन फिल्म की हीरोइन कंगना रानौत ने शिवसेना के राज्यसभा सांसद व सामना समाचारपत्र के संपादक संजय राउत द्वारा मुम्बई न आने की धमकी देने के जवाब में सवाल किया कि मुम्बई किसके बाप की है ? आप मुझे कैसे मुम्बई आने से रोक सकते हो और किस अधिकार से ? हालांकि इसके जवाब में संजय राउत ने जवाब दिया कि मुम्बई मराठी मानुस के बाप की है । वाह । क्या यह संविधान सम्मत है ? बिल्कुल नहीं ।

संविधान में दिए गये मौलिक अधिकारों की धज्जियां उड़ा रहे हैं संजय राउत । सारे देश में कहीं भी जा सकते हैं फिर आप किसी को मुम्बई या कहीं भी आने से कैसे रोक सकते हैं ? यही नहीं शिवसेना के ही अनिल ने भी संजय राउत की हां में हां मिलाते कहा है कि कंगना को अगर मुम्बई इतनी खराब लगती है तो उसे यहां नही आना चाहिए । अनिल महाराष्ट्र सरकार में गृहमंत्री हैं ।

 

 

कंगना ने वैसा ही जवाब दिया कि मैं नौ सितम्बर को मुम्बई आ रही हूं । किसी में हिम्मत है तो रोक ले । मामला दबाने के चक्कर में मुम्बई पुलिस की इमेज भी खराब कर दी । कंगना ने रणवीर सिंह व रणवीर कपूर के नाम तक उजागर करने में कोई संकोच नहीं किया । फिल्मी दुनिया के लोग भी कंगना के खिलाफ बोलने लगे ।

कंगना ने वैसा ही जवाब दिया कि मैं नौ सितम्बर को मुम्बई आ रही हूं । किसी में हिम्मत है तो रोक ले । महिलाओं ने शिवसेना के कार्यालय के बाहर प्रदर्शन भी किया संजय राउत के इस बयान के विरोध में । यानी सुशांत सिंह राजपूत के केस में राजनीति बराबर सक्रिय है । पहले बिहार के नेता इसमें बयानबाज़ी करने उतरे । बिहार से जुड़े अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा , शेखर सुमन और अन्य बयान देते आगे आए । चिराग पासवान को भी सुशांत सिंह राजपूत की चिंता सताई । अब यह राजनीति महाराष्ट्र में शुरू हो गयी है । शिवसेना नेता इसके पीछे भाजपा का साथ बता रहे हैं । आपकी भूल को लपक लेना ही तो विरोधी की चाल बन जाती है । यह चाल अब बना दी खुद ही संजय राउत  और अनिल ने ।

दूसरी ओर रिया चक्रवर्ती के भाई शौविक चक्रवर्ती और सुशांत के हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा को  नेरोटिक्स कंट्रोल बोर्ड ने गिरफ्तार कर लिया है । दोनों ने मान लिया कि वे सुशांत सिंह राजपूत के लिए ड्रग खरीदा करते थे । ऐसे आसार बन रहै हैं कि इसी मामले में लिया चक्रवर्ती को भी गिरफ्तार किया जा सकता है । ये दोनों ड्रग की खरीद रिया के कहने पर ही करते थे यानी रिया चक्रवर्ती  सुशांत सिंह राजपूत को ड्रग्स देती थी । भाई बहन की चैट में स्पष्ट हो रहा है कि दस हजार रुपये से खरीदे पांच ग्राम ड्रग्स से चार सिगरेट भरी जा सकती थीं । इसमें तीनों लिप्त पाए गये हैं ।

यह भी समाचार हैं कि रिया गिरफ्तारी से बचने के लिए कोर्ट  की शरण में जाने की तैयारी में है । इस तरह सुशांत ही नहीं बल्कि सुशांत की पूर्व मैनेजर दिशा सालयान का केस भी खुल सकता है । इसी केस को खुलने से बचाने में महाराष्ट्र सरकार और संजय राउत का सारा जोर लगा है । इसमें इनकी जान अटकी है क्योंकि आदित्य ठाकरे का नाम आ रहा है । संजय राउत कह रहे हैं कि कंगना मुम्बई को बदनाम कर रही है लेकिन राउत जी आप मुम्बई पुलिस को कोई काम तो करने नहीं दे रहे ।

मामला दबाने के चक्कर में मुम्बई पुलिस की इमेज भी खराब कर दी । कंगना ने रणवीर सिंह व रणवीर कपूर के नाम तक उजागर करने में कोई संकोच नहीं किया । फिल्मी दुनिया के लोग भी कंगना के खिलाफ बोलने लगे । नगमा ने कहा कि किसने काम दिया कंगना को ? इसी वंशवाद ने ? कैसे सफल हुई ? इसी मुम्बई में । कंगना पर शिवसेना ने अपनी भड़ास महिलाओं द्वारा निकाली । उनके फोटो पर जूते बरसाती महिलाएं दिखने लगीं । जो भी हो कंगना ने ड्रग्स के कारोबार को सामने ला दिया और गिरफ्तारियां बता रही हैं कि कंगना की बात में दम है । कंगना आगे बढ़ो । हम तुम्हारे साथ कहने वालों की कमी नहीं । नौ सितम्बर को आने दो ,,,कंगना को मुम्बई जाने दो ,,,

कमलेश भारतीय , वरिष्ठ पत्रकार  
 

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account