प्रमुख सुर्खियाँ :

भास्करर के रूप में आना मेरे जीवन की एक उपलब्धि है’ : कृष्णा भारद्वाज

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कलाकारों को सही लुक और किरदार को वास्तविक दिखाने के लिये कई सारे बदलावों से होकर गुजरना पड़ता है। ऐसा ही एक बड़ा बदलाव कृष्णा भारद्वाज में देखने को मिला, जिन्हें सोनी सब के ‘तेनाली रामा’ में अपने पंडित रामा के मुख्य किरदार को सही रूप में दिखाने के लिये नियमित रूप से अपने सिर पर उस्तरा फिराना पड़ता था। इस काबिल कलाकार को नये सीजन ‘तेनाली रामा भास्कर अध्याय’ के साथ इस शो में अब दोहरी भूमिका निभानी पड़ रही है। वह इसमें रामा के बेटे भास्कर की भूमिका निभा रहे हैं और यह बदलाव कृष्णा के लिये अद्भुत और जीवन बदल देने वाले अनुभव से कम नहीं है।

इस शो में बदलाव के बारे में अपने विचार रखते हुए, कृष्णा  भारद्वाज कहते हैं कि मुझे ऐसा लगता है कि वास्तविकता मुख्य चीज होती है। मैं पहले डरा हुआ था लेकिन मैंने अपने किरदार के लिये अपना सिर मुंडवाने का फैसला किया ताकि इस किरदार को जीवंत कर सकूं। अब मुझे भास्कर का किरदार निभाने का मौका मिला है, अपनी भूमिका को वास्ततविक दिखाने के लिये मैंने अपने बालों को बढ़ाना शुरू किया है। काफी बड़ा बदलाव रहा है और मैं हमेशा ही ऐसी चुनौतियों के दबाव में रहा हूं।‘’

बता दें कि भास्कर का लुक इस बात को ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है कि इस शो में 25 साल का लीप आ गया है। वह उससे अगली पीढ़ी का है, जो युवा है और जोश से भरा हुआ है और उसके कपड़ों से यह बात झलकती है। भास्कर के कपड़ों में जिस तरह के रंगों को चुना गया है वे काफी चटक हैं जो आपको नये तरह की ऊर्जा का अहसास कराते हैं और आपको तरोताजा महसूस कराते हैं। भास्कर के लिये ड्रैपिंग का जो स्टााइल रखा गया है वह थोड़ा आधुनिक और अनूठा है। इसे एक युवा की जीवनशैली को ध्यान में रखते हुए चुना गया है और इसलिये भास्कर की ड्रैपिंग कंधों के ऊपर से की गयी है ताकि उसके हाथों का मूवमेंट आराम से हो सके। उसकी ज्वैलरी चंकी किस्म की है, जोकि कपड़ों को गहराई और उसे और धारदार बनाती हैं।

बेहद प्रतिभाशाली डिजाइनर निधि यशा को अब तक भारतीय टेलीविजन के कई सारे जाने-माने शोज के शानदार कॉस्टयूम तैयार करने के लिये जाना जाता है। सोनी सब के ऐतिहासिक फिक्शोन शो ‘तेनाली रामा’ के कॉस्ट्यूम के पीछे उन्हीं का क्रिएटिव दिमाग है। भास्कर के लुक को तैयार करने के बारे बताते हुए निधि कहती हैं कि सबसे बड़ी चुनौती एक ही कलाकार के लुक को अलग-अलग दिखाना था। इसलिये, उन्हें अलग दिखाने के लिये हमने कुछ चीजें शामिल की। हम क्लासिक  और कम्फर्ट को मिलाकर काम करना चाहते थे। हमने दक्षिण भारत से इसके लिये प्रेरणा ली और हमने कलमकारी डिजाइन को उनके कपड़ों में मिलाया ताकि थोड़ा प्रिंट शामिल हो जाये और किरदार का युवा रूप नजर आये। हमने उनके लुक को चटक रंग देने के लिये मसालों का रंग शामिल किया। कपड़ों को सचमुच वास्तआविक रखा गया जिससे सही मायने में दक्षिण भारत का वह रंग झलके, जिस पर यह कहानी आधारित है।‘’

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account