अब जामिया में भी होगा मेडिकल काॅलेज

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जामिया मिल्लिया इस्लामिया की कुलपति प्रोफेसर नजमा अख़्तर से मुलाक़ात के दौरान यूनिवर्सिटी में मेडिकल कॉलेज और अस्पताल स्थापित करने में हर संभव मदद मुहैया कराने का भरोसा दिया है। प्रोफेसर अख़्तर ने मुलाकात के दौरान प्रधानमंत्री मोदी को जामिया की अकादमिक और अनुसंधान संबंधी गतिविधियों के बारे में जानकारी देने के साथ ही अगले साल आयोजित होने वाले विश्वविद्यालय के शताब्दी महोत्सव के बारे में भी बताया। साथ ही महोत्सव के लिए जामिया को विशेष अनुदान देने का आग्रह किया। प्रधानमंत्री ने उनके आग्रह पर सकारात्मक विचार करने का आश्वासन दिया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने जामिया के उच्च स्तरीय अकादमिक और अनुसंधान कार्यों की सराहना करते हुए अपनी सरकार के शिक्षा संबंधी उद्देश्यों और लक्ष्यों को रेखांकित किया। राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जामिया की रैंकिंग में हो रहे लगातार सुधार से प्रधानमंत्री पूरी तरह वाक़िफ़ हैं। कुलपति ने प्रधानमंत्री को भरोसा दिलाया कि वह गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और छात्रों में राष्ट्र निर्माण की भावना को बढ़ावा देते हुए जामिया में सरकार के शिक्षा संबंधी उद्देश्यों और लक्ष्यों को पूरा करने की हर मुमकिन कोशिश करेंगी। साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को जामिया का स्मित चिन्ह और गुलदस्ता भेंट किया।

उल्लेखनीय है कि प्रोफेसर नजमा अख़्तर ने माननीय राष्ट्रपति और विश्वविद्यालय के विज़िटर रामनाथ कोविंद से भी 01 जुलाई 2019 को मुलाक़ात करके उन्हें विश्वविद्यालय के अकादमिक एवं अनुसंधान कार्यों की गुणवत्ता में और ज़्यादा सुधार किए जाने के लिए हाल में उठाए गए क़दमों के बारे में अवगत कराया था।

एडमिन

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account