प्रमुख सुर्खियाँ :

जॉनसन्स ने जुटाई दिल्ली की 941 माताओं की भावनात्मक कहानियां

नई दिल्ली। शिशु देखभाल विशेषज्ञ जाॅनसन्स अपने सबसे पसंदीदा उत्पादों के माध्यम से दुनिया भर में शिशु देखभाल प्रदान करने और इसे आगे बढाने के 125 साल के अपने सफर का जश्न मना रहा है। ब्रांड ने यह साल उन माताओं को आकर्षित करने और उनकी बात सुनने के लिए समर्पित किया है जिन्होंने ब्रांड के प्रति अपना बेहद भरोसा जताया है और इसे अपना प्यार दिया है। मातृ दिवस को मनाने के लिए जाॅनसन्स देश भर में लाखों माताओं तक पहुंचा, ताकि वह उनसे हमेशा सर्वश्रेष्ठ शिशु देखभाल प्रदान करने का अनुभव सुन सके। जाॅनसन्स® को सिर्फ 2 महीनों में कॉल्स और सोशल मीडिया प्लेटफार्मों के माध्यम से 24,000 ऐसी कहानियां प्राप्त हुईं, जो निश्चित ही दिल को छू जाती हैं। हर उम्र और हर पीढी की माताओं ने ये काॅल्स किए और इन सबका एक ही मकसद था- ये सभी अपने बच्चों के लिए सर्वश्रेष्ठ की चाहत रखती थीं।
इस सबसे प्यारे शिशु देखभाल ब्रांड को पूरे दिल्ली से कुल 941 माताओं से कॉल प्राप्त हुईं। इस दौरान कुछ माताओं ने दिल को छू जाने वाली कहानियां बयान की, जो इस ब्रांड के साथ उनके भावनात्मक रिश्ते को और मजबूती प्रदान करती थीं। अधिकांश माताओं ने शिशु देखभाल से जुडे प्रसंगों का जिक्र करते हुए अपने बच्चों के साथ बिताए अनमोल क्षणों को साझा किया और इस दौरान ब्रांड के प्रति अपने अविश्वसनीय समर्थन और प्यार का इजहार करते हुए खुद के बचपन से जुडी यादों को भी फिर से जिंदा करने का प्रयास किया।
महाराष्ट्र से नम्रता जेम्से ने उन दिनों की यादों को साझा किया जब उन्होंने एक प्यारी सी बच्ची को जन्म दिया था और इस दौरान ब्रांड पर लगे प्रतिबंध के कारण उन्हें जाॅनसन्स® के उत्पादों को हासिल करने के अनेक कठिनाइयों का सामना करना पडा था। उनके सामने कई अन्य विकल्प भी थे, लेकिन उन्हें इंतजार था सिर्फ जाॅनसन्स® के उत्पादों का, जिनका इस्तेमाल वह अपनी नन्हीं बिटिया के लिए करना चाहती थीं। आज उनकी बेटी बीस साल की हैं जिसके पास कई यूट्यूब वीडियो हैं और वह ब्रांड का एक चेहरा भी है। नम आंखों के साथ नम्रता इस कामयाबी के लिए जाॅनसन्स® बेबी उत्पादों को श्रेय देती हंै जिसने उनकी खूबसूरत बेटी को अपना करियर बनाने में मदद की है।
जाॅनसन एंड जाॅनसन इंडिया के कंज्यूमर प्रोडक्ट्स डिवीजन की वाइस प्रेसीडेंट-मार्केटिंग डिंपल सिधर के अनुसार, ’’विशेषज्ञों के साथ माताओं और हेल्थकेयर पेशेवरों की बात को सुनने की हमारी पुरानी परंपरा के कारण हम उद्योग मानकों को समझने और इस दिशा में नवाचार करने में सक्षम हुए हैं। 125 वर्षों की इस यात्रा के मौके पर हमें इस बात पर गर्व है कि हमने बच्चों के लिए सबसे बेहतरीन करने का प्रयास किया और माताओं की तेजी से बदलती जरूरतों के अनुरूप अपने आप को विकसित किया है। इस अभियान के एक हिस्से के रूप में, हमने 25000 से अधिक माताओं से बात की और यह जानने का प्रयास किया कि सर्वश्रेष्ठ शिशु देखभाल से जुडी उनकी कहानी क्या है। माता-पिता की तरह, हम कभी भी ठीक-ठाक से संतुष्ट नहीं होते हैं और इसीलिए हम हर दिन बच्चे के लिए सबसे बेहतरीन काम करने का प्रयास करेंगे।‘‘ यह उस भरोसे और प्यार की एक और मिसाल है जो इस ब्रांड को भारत में मिला है, जहां सिर्फ 2 महीने की अवधि में भारतीय मांओं और शिशुओं से जुडी रिकाॅर्ड 25000 कहानियां एकत्र हुई हैं।

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account