जमैका में आयोजित मिसेज यूनाइटेड नेशन 2018 में परचम लहराया डेज़ल सुंदरियों ने

नई दिल्ली।  देश ही नहीं विदेश की धरती पर भी भारतीय सौंदर्य की चकाचौंध किसी से कम नहीं है। 30 देशो की सुंदरियों के बीच भारत की तीन प्रतिभाशाली महिलाओं ने अफ्रीकन देश जमैका में अपनी खूबसूरती का परचम लहरा दिया। मौका था मिसेज यूनाइटेड नेशन 2018 का। जिसमे दिल्ली की कंपनी परीसा कम्यूनिकेशन के बैनर तले भाग लेने गयी महाराष्ट्र की तीन सुंदरियों ने अपनी सुंदरता और प्रतिभा से सभी को कायल कलर दिया।
कंपनी की निदेशक तबस्सुम हक़ भारत में यूनाइटेड नेशन पेजेंट की राष्ट्रीय निदेशक हैं। उन्होंने महाराष्ट्र के पुणे की पायल प्रामाणिक, हेमलता अशोक पाटिल और ठाणे की श्वेता वारपे को भारत की और से यूनाइटेड नेशन जाने के लिए चुना था । इनमे से पायल पूर्व में नौं सौंदर्य प्रतियोगिताओं में विजेता रह चुकी हैं। जबकि पायल 2017 में श्रीलंका में हुयी डेज़ल मिसेज इंडिया इंटरनेशनल प्रतियोगिता में सेकंड रनर-अप थी। श्वेता वारपे योग और फिटनेस ट्रेनर हैं और सामाजिक संगठनों और महाराष्ट्र पुलिस के साथ मिलकर जेलों में बंद कैदियों को भी योग का प्रशिक्षण देती हैं।

21 जुलाई को जमैका के किंग्स्टन शहर में शुरू हुयी सौंदर्य प्रतियोगिता में इन तीनो ने ही होनी अदभुत क्षमता का परिचय दिया। निर्णायक मंडल ने पायल प्रामाणिक को मिसेज एशिया गुडविल और मिसेज गुडविल इंटरनेशनल के ख़िताब से नवाजा। हेमलता अशोक पाटिल को मिसेज इंडिया गुडविल और मिसेज चैरिटी इंटरनेशनल का ताज दिया गया। श्वेता वारपे मिसेज इलीट एशिया गुडविल और गुडविल इंटरनेशनल चुनी गयी। डेज़ल मिसेज इंडिया यूनिवर्स मनीषा वरुण, डेज़ल मिसेज इंडिया यूनिवर्स क्लासिक रितिका तंवर और डेज़ल मिसेज इंडिया यूनिवर्स क्वीन हेमामालिनी लक्ष्मण ने देश का नाम रोशन करने वाली तीनो सुंदरियों को बधाई दी है।

एडमिन

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account