प्रमुख सुर्खियाँ :

पर्यावरण संरक्षण के लिए शिवराज सिंह चौहान के संकल्प को आत्मसात करने की आवश्यकता : कृष्ण मोहन झा

भोपाल। सहारा साक्षरता एज्युकेशनल एण्ड सोशल वेल्फेअर सोसायटी, व्दारा विश्व पर्यावरण दिवस सप्ताह के समापन एवं संस्था के 16 वे स्थापना दिवस पर” प्रकृति को समर्पित- सफर एवं सम्मान ” कार्यक्रम रीजनल साइंस सेंटर में था जिसमे सांस्कृतिक प्रस्तुतियों के साथ समाज के विभिन्न क्षेत्रों में विशिष्ट योगदान के लिए लोगों को सम्मानित किया गया| पत्रकारिता के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य के लिए डिज़ियाना मीडिया समूह के सलाहकार एवं वरिष्ठ पत्रकार कृष्णमोहन झा को सम्मानित किया गया |संस्था की संरक्षक संयोजिका एवं वरिष्ठ समाज सेविका श्रीमती उषा पुंडे ने यह सम्मान प्रदान किया| इस अवसर पर विविध क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वालों का भी सम्मान किया गया,सम्मान पाने वालों में सर्वश्री अजय शर्मा,शैलेंद्र जैन,विजय पाटीदार,हरदीपसिंह सैनी,कुणाल गजभिये,शैलजा आफळे,कु.श्री प्रिया राजेश ,और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत का नाम रोशन करने वाली कु. साक्षी कोल्हे प्रमुख है|

इस अवसर पर अपने वक्तव्य में कृष्ण मोहन झा ने कहा अगर जलवायु परिवर्तन से पृथ्वी को बचाने का कोई आसान तरीका है, तो वह है वनों की कटाई को रोकना और अधिक से अधिक पेड़ लगाना। आम जनता में जागरूकता पैदा करने के लिए मध्य प्रदेश के लोकप्रिय मुख्यमंत्री बहनों के भाई बच्चों के मामा शिवराज सिंह चौहान एक विशेष अभियान चला रहे हैं। एक वर्ष से अधिक समय तक यह अभियान, जिसके तहत वह प्रतिदिन एक पौधा लगाते हैं। इस तरह वे वृक्षारोपण अभियान के ब्रांड एंबेसडर बन गए हैं। आज हम विश्व पर्यावरण पखवाड़ा मना रहे है,लगातार बिगड़ रहे पर्यावरण संतुलन से पर्यावरण के बारे में सोचने पर मजबूर करता है। मौजूदा समय में जलवायु परिवर्तन सभी के लिए एक चुनौती बन गया है। विकास की गति तेज होने से इसका पर्यावरण पर सीधा प्रभाव पड़ रहा है क्योंकि बड़े पैमाने पर पेड़ काटे जा रहे हैं। यह सुनिश्चित करने के लिए कि विकास की गति रुके नहीं और पर्यावरण कम से कम प्रभावित हो, यह आवश्यक है कि पेड़ों को काटने से बचाने के अलावा, नए वन लगाए जाएं।भारतीय वन सर्वेक्षण की रिपोर्ट 2021 कहती है कि देश में लगभग 7,13,789 वर्ग किमी वन भूमि है। मध्य प्रदेश में 77,493 वर्ग किमी वन भूमि है। हमारे मुख्यमंत्री ने 19 फरवरी, 2021 को नर्मदा जयंती के अवसर पर वृक्षारोपण को प्रोत्साहित करने के लिए प्रतिदिन एक पौधा लगाने का संकल्प लिया था और वह इस अभ्यास को जारी रखे हुए है। वह कहीं भी हों, एक पौधा लगाना नहीं भूलते। उन्होंने लोगों से अपने जन्मदिन पर और अपनों की याद में एक पौधा लगाने की भी अपील की। सहारा साक्षरता की पूरी टीम पर्यावरण संरक्षण की दिशा में कार्य कर रही है यहां मौजूद सभी लोगों को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की परिकल्पना को मूर्त रूप देना चाहिए और हर व्यक्ति को जन्मदिन या या विशेष दिवस पर एक पौधारोपण अवश्य करना चाहिए जिससे हम वास्तव में पर्यावरण संरक्षण की दिशा में महती भूमिका का निर्वहन कर सकें संस्था की संरक्षक उषा पुंडे ने भी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा चलाए जा रहे पौधारोपण अभियान की प्रशंसा करते हुए कहा की मुख्यमंत्री होने के बावजूद वे प्रतिदिन अपनी व्यवस्थाओं के बावजूद पौधारोपण का कार्य निरंतर कर रहे हैं यह साधुवाद योग्य कार्य है और हम जैसे लोगों को प्रेरणा देता है कि किस तरह हमें भी हमारी दिनचर्या के बीच में समाज राष्ट्र एवं प्रकृति के संरक्षण के लिए कार्य करना चाहिए | श्रीमती पंडे ने बताया कि हमारी संस्था 16 वर्षों से शिक्षा और पर्यावरण के क्षेत्र में कार्य कर रही है इस संस्था को इस मुकाम में पहुचानें में श्रीमती दुर्गा मिश्रा ,मीनाक्षी वर्मा,शिव कुमारी,रजनी लोधी
रवि नेवारे का महत्वपूर्ण योगदान है| इस अवसर पर गरीब बस्तियों के बच्चों ने भी सांस्कृतिक कार्यक्रमो की प्रस्तुतियां दी इन प्रतिभाओं का सम्मान भी अतिथियों द्वारा किया गया| कार्यक्रम का सफल संचालन चार भाषाओं की जानकर राष्ट्रीय स्तर की मंच संचालिका राधिका देशमुख ने किया|

दीप्ति अंगरीश

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account