21 वें भारत रंग महोत्सव का हुआ शुभारंभ


नई दिल्ली। कला प्रेमियों को आकर्षित करने वाले भारत और दुनिया भर के बेहतरीन नाटकों, संवादात्मक सत्रों तथा अन्य सांस्कृतिक आयोजनों के साथ राष्ट्रीय नाट्य मंच (एनएसडी) की ओर से हर साल आयोजित होने वाले वार्शिक नाट्य महोत्सव – भारत रंग महोत्सव (बीआरएम) के 21 वें संस्करण का आज से आगाज होने जा रहा है।

 

इस अवसर पर एनएसडी के निदेशक सुरेश शर्मा ने कहा,“ मैं इस समारोह में शामिल होने के लिए गांगुली और आप सभी लोगों का अभिनंदन करता हूं। इस महोत्सव में पिछले 20 वर्षों में देश विदेश के नाटकों का प्रदर्शन किया गया है। रंगमंच में इस महोत्सव का योगदान अनूठा है। इस वर्ष यह महोत्सव दिल्ली के अलावा देहरादून, शिलांग और नागपुर में भी आयोजित किया जाएगा।” रंग महोत्सव में 91 देशी और 10 विदेशी नाटकों का मंचन होगा।

 

भारत रंग महोत्सव, 2020 का उद्घाटन समारोह कमानी सभागार में दक्षिण भारत के भक्ति संगीत – ‘पंचवादय्म’ की मनभावन प्रस्तुति के साथ हुआ। इस अवसर पर उपस्थित गणमान्य व्यक्तियों में मुख्य अतिथि के तौर पर प्रख्यात रंगकर्मी और गायक प्रो. विदुषी रीता गांगुली, विषिश्ट अतिथि के तौर पर रंगकर्मी, फिल्मी हस्ती डाॅ. मोहन अगाशे, भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय की संयुक्त सचिव आईआरएस सुश्री निरुपमा कोटरू के अलावा अनेक महत्वपूर्ण हस्तियां शामिल हुए। इस समारोह की अध्यक्षता एनएसडी सोसाइटी के कार्यवाहक अध्यक्ष डॉ. अर्जुन देव चरण ने की।

मलिका-ए-गजल बेगम अख्तर की शिष्या, प्रसिद्ध रंगकर्मी तथा गायिका रीता गांगुली ने शनिवार को कहा कि अच्छा अभिनेता वही है जो कहीं से भी अपनी बात कह सके। थिएटर नाट्य का एक महत्वपूर्ण अंग है। एक सफल अभिनेता वही है जो कहीं भी लोगों तक अपनी बात पहुंचा सके। एक अच्छा अभिनेता वही है जो लाइट, मंच और स्क्रिप्ट के बिना दर्शकों तक अपनी बात पहंचाने में कामयाब रहे।

 

 

 

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account