प्रमुख सुर्खियाँ :

प्लॅनिस ने अगली पीढ़ी के आरओवी माईक्रौस का अनावरण किया

नई दिल्ली। प्लॅनिस टेक्नोलॉजीज ने अपना सबसे उन्नत दूर संचालित वाहन (आरओवी) माईक्रौस लॉन्च किया। ये नया उत्पाद प्रसंस्करण उद्योगों, पेट्रोकेमिकल रिफाइनरियों और डीसैलिनेशन प्लांट्स को बेहतर अंतर्जलीय निरीक्षण समाधान प्रस्तुत करने हेतु तैयार है। भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) की स्टार्टअप स्कीम परियोजना अंकुर के तहत समर्थित प्लॅनिस ने बीपीसीएल दल की सहायता से और कई क्षेत्रों के बारे में जानकारी एकत्रित करके माईक्रौस का निर्माण किया है। बीपीसीएल के निदेशक, श्री आर रामचंद्रन जी ने आरओवी माईक्रौस को लॉन्च किया।

लॉन्च के दौरान मीडिया को संबोधित करते हुए आर रामचंद्रन ने कहा: “मुझे यकीन ​​है कि भारत की संपन्न स्टार्ट-अप पारिस्थितिकी तंत्र आने वाले दशक में हमारी अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण योगदान देगी। प्लॅनिस जैसे स्टार्ट-अप ने कई गंभीर प्रौद्योगिकी समाधान विकसित किए हैं जो पहले ही तेल तथा गैस जैसे प्रमुख औद्योगिक क्षेत्रों में काफी लाभदायक साबित हो रहे हैं। उन सबको हमारी शुभकामनाएं।”

हाल ही में, प्लॅनिस को महाराष्ट्र स्टार्ट-अप वीक में शीर्ष 24 स्टार्ट-अप में से एक के रूप में भी चुना गया, जिसने ‘स्मार्ट इंफ्रा’ श्रेणी के तहत जीत हासिल की। प्लॅनिस टेक्नोलॉजीज बांधों और बंदरगाह प्राधिकरण को अपने अंतर्जलीय संरचनाओं के स्वास्थ्य की निगरानी और रखरखाव और मरम्मत की योजना बनाने में मदद करता है। महाराष्ट्र में 2000 से अधिक बांध और 50 से अधिक प्रमुख और गैर-प्रमुख बंदरगाह हैं जो अर्थव्यवस्था के लिए महत्वपूर्ण हैं। जीतने वाले 24 स्टार्टअप को राज्य के अंतर्गत अपने समाधानों की शुरुआत के लिए कार्य आदेश देने का वादा किया गया था।

प्लॅनिस टेक्नोलॉजीज के सीटीओ विनीत उपाध्याय ने कहा: “हमें माईक्रौस लॉन्च करने की खुशी है, जिसे हम आज बड़े ही गर्व के साथ अपनी सबसे उन्नत स्वदेश निर्मित मिनी-आरओवी कह सकते हैं। बाजार की स्थितियों को समझने और पिछले 3 वर्षों में पिछले उत्पादों से अनुभव प्राप्त करने के बाद, हमने माईक्रौस पर काम करना शुरू किया। हमें एक ग्राहक केंद्रित उत्पाद प्रस्ताव का विकास करके बेहद प्रसन्नता हुई है जो अंतर्जलीय परिसंपत्ति मालिकों को डेटा संचालित निर्णय लेने और रखरखाव तथा मरम्मत का पूर्वानुमान लगाने में मदद करेगा। माईक्रौस के साथ हम भारत के अलावा अन्य भौगोलिक क्षेत्रों पर भी ध्यान दे रहे हैं।“

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account