कोरोना वायरस के बीच प्रथम एजुकेशन ने संचालित की ऑनलाइन क्लासेस

अंकित कपूर, हेड, प्रथम एजुकेशन

कोरोना वायरस ने दुनियाभर के 1,50,000 से ज्यादा लोगों को बीमार कर दिया है। इसके कारण अबतक लगभग 5000 से ज्यादा मृत्यु के मामले दर्द किए जा चुके हैं। इसी के चलते पूरी दुनिया मिलकर इस घातक वायरस से लड़ने की कोशिश में जुटी हुई है।

हालांकि, भारत के कई शहर इस वायरस की चपेट में आ चुके हैं लेकिन दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु और गुरुग्राम जैसे अधिक आबादी वाले शहरों पर इसका ज्यादा असर पड़ा है। भारत सरकार इस वायरस के घातक असर को कम करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।

मामला बहुत गंभीर है, इसलिए हम सभी को एक होकर पूरी दृढ़ता से इससे लड़ना होगा। इसके लिए हम पूरी तरह से तैयार हैं!

हम अपनी जिम्मेदारी को अच्छे से समझते हैं और यह भी जानते हैं कि साल का यह समय हर छात्र के लिए बहुत जरूरी होता है। इसलिए उनकी तैयारी में कोई रोक-टोक या कमी न आए, यह सुनिश्चित करना हमारी जिम्मेदारी है। ऑनलाइन क्लासेस की मदद से छात्रों की तैयारी को जारी रखा जा सकता है और साथ ही इस घातक वायरस से दूर भी रहा जा सकता है। ऐसे समय में हम सभी छात्रों के माता-पिता से अनुरोध करते हैं कि वे इसमें हमारा साथ दें और बच्चों को घर पर ही रखें। यह कदम सभी की सुरक्षा और भलाई को देखते हुए उठाया गया है इसलिए किसी भी छात्र को अपनी तैयारी को लेकर परेशान होने की बिल्कुल आवश्यकता नहीं है।

प्रथम इस संकट से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार है और इसी के साथ वह अपने क्रैश कोर्स को पूरे उत्साह के साथ शुरू कर रहा है:

1. ऑनलाइन लाइव क्लासेस: प्रथम की इन-हाउस फैकल्टी सभी छात्रों को लाइव इंट्रेक्टिव क्लासेस देगी। प्रथम स्टूडेंट इनफॉर्मेशन सिस्टम (पीएसआईएस) के जरिए सभी छात्रों को वास्तविक कक्षा जैसा अनुभव मिलेगा। इस हाई टेक्नोलॉजी की मदद से उन्हें ऐसा बिल्कुल महसूस नहीं होगा कि वे ऑइन क्लास अटेंड कर रहे हैं।

2. टेलीग्राम ग्रुप: हर विषय के लिए एक अलग से टेलीग्राम ग्रुप बनाया जाएगा, जिसकी मदद से शिक्षक छात्रों के सभी संदेह और समस्याओं को दूर करेंगे।

3. वीकली मटीरियल: छात्रों को हर हफ्ते की शुरुआत या अंत में सेंटर में मौजूद वीकली मटीरियल लेकर जाना होगा। ऑनलाइन लाइव क्लासेस इस मटीरियल के आधार पर संचालित की जाएंगी। मेन बुक सेट सभी सेंटर्स में पहले से मौजूद है।

4. ई-लेक्चर: हम अपनी सभी सुविधाएं छात्रों तक आसानी से पहुंचाना चाहते हैं। इसलिए यदि कोई छात्र किसी कारण से ऑनलाइन लाइव क्लास नहीं ले पाता है तो वह प्री-रिकॉर्डेड ई-लेक्चर के जरिए 2 घंटे की उस पूरी क्लास को अटेंड कर सकता है। छात्र अपने पीएसआईएस एकाउंट के जरिए सभी प्री-रिकॉर्डेड ई-लेक्चर्स को कभी भी अटेंड कर सकते हैं। हमने अपने छात्रों के अकाउंट पर 150 घंटों से भी ज्यादा समय के ई-लेक्चर डाल रखें हैं।

5. ऑनलाइन मटीरियल: डेली और मंथली करंट अफेयर्स, विषयों की अच्छी समझ के लिए 100 से भी ज्यादा प्रेक्टिस टेस्ट, फॉर्म भरने के लिए सेल्फ हेल्प वीडियो, जिससे छात्र आसानी से ऑर्म भर पाएं आदि सभी चीजें उपलब्ध की जाएंगी।

 

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account