संविधान को प्रधानमंत्री मोदी से खतरा : वासनिक

नागपुर। कांग्रेस महासचिव मुकुल वासनिक ने गुरुवार को आरोप लगाया कि अगर भारतीय संविधान को किसी से खतरा या चुनौती है तो वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता विदर्भ में पार्टी की संघर्ष यात्रा के पांचवें चरण का शुभारंभ करने के मौके पर यहां दीक्षाभूमि में संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा, ‘‘आज हम संघर्ष यात्रा शुरू कर रहे हैं। ऐसे में मैं कहना चाहता हूं कि नरेंद्र मोदी ने भारतीय संविधान की शपथ लेकर प्रधानमंत्री पद संभाला। हालांकि आज, अगर संविधान को किसी से खतरा या चुनौती है तो वह प्रधानमंत्री मोदी से ही है।’’

पूर्व केंद्रीय मंत्री वासनिक ने कहा, ‘‘इस संघर्ष यात्रा के साथ हम संविधान की रक्षा के लिये हर शहर और गांव में जाएंगे और मुझे भरोसा है कि लोग हमारा समर्थन करेंगे।’’ वासनिक ने यह भी आरोप लगाया कि मोदी प्रधानमंत्री बनने से पहले किये गए वादों को पूरा करने में विफल रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हम सबको याद है कि 2014 में वह सपनों के सौदागर के रूप में आए थे जिसने समाज के हरेक तबके से वादा किया था कि वह किसी न किसी तरीके से उनकी आकांक्षाओं को पूरा करेंगे। हालांकि, पांच साल पूरे होते होते वह एक खोखले नेता साबित हुए हैं क्योंकि उन्होंने जो भी वादा किया था उसमें से किसी को भी वह पूरा नहीं कर सके हैं।’’

वासनिक ने कहा, ‘‘चाहे वह युवाओं को रोजगार देने का मामला हो या किसानों को लाभकारी मूल्य दिलाना, महिलाओं की सुरक्षा हो ,अर्थव्यवस्था की स्थिति को मजबूत बनाना या देश के विभिन्न हिस्सों में समाज का विकास, हर वादे पर वह विफल रहे हैं। इसलिये, समाज के हरेक तबके के लोग चिढ़े हुए और नाराज हैं।’’ उन्होंने कहा कि संघर्ष यात्रा के दौरान कांग्रेस मोदी सरकार की विफलताओं को उजागर करेगी।

एडमिन

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account