पंजाब में रावण दहन देख रहे लोगों पर ट्रेन चढ़ी, कम से कम 80 की मौत

अमृतसर। पंजाब में अमृतसर के निकट शुक्रवार शाम रावण दहन देखने के लिए रेल की पटरी पर खड़े लोगों के ऊपर ट्रेन चढ़ने से कम से कम 80 लोगों की मौत हो गई। ट्रेन जालंधर से अमृतसर आ रही थी तभी जोडा फाटक पर यह हादसा हुआ। मौके पर कम से कम 300 लोग मौजूद थे जो पटरियों के निकट एक मैदान में रावण दहन देख रहे थे। अमृतसर के प्रथम उपमंडलीय मजिस्ट्रेट राजेश शर्मा ने बताया कि 50 शवों को बरामद किया गया है और कम से कम 50 घायलों को एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अधिकारियों ने बताया कि रावण के पुतले को आग लगाने और पटाखे फूटने के बाद भीड़ में से कुछ लोग रेल की पटरियों की ओर बढ़ना शुरू हो गए जहां पहले से ही बड़ी संख्या में लोग खड़े होकर रावण दहन देख रहे थे। उन्होंने बताया कि उसी वक्त दो विपरीत दिशाओं से एक साथ दो ट्रेनें आई और लोगों को बचने का बहुत कम समय मिला। उन्होंने बताया कि एक ट्रेन की चपेट में कई लोग आ गए।

दशहरा के दिन पंजाब के अमृतसर में बड़ा रेल हादसा हुआ है। यहां रेलवे ट्रैक पर खड़े होकर रावण दहन देख रही भीड़ पर ट्रेन चढ़ गई जिससे 100 लोगों की मौत हो गई। रेलवे ट्रैक के पास बने ग्राउंड में आस-पास के लोग दशहरे का उत्सव देख रहे थे। ये सभी लोग उत्सव देखते-देखते ट्रैक पर पहुंच गए और बड़ा हादसा हो गया। घटना अमृतसर के जौड़ा फाटक इलाके में हुई जो शहर के बीचोंबीच स्थित है। यह हादसा अमृतसर दिल्ली रेलवे ट्रैक पर हुआ। दो अलग-अलग ट्रैक पर दो ट्रेनें एक साथ आ गई थी जिससे लोगों को कहीं भी भागने का मौका नहीं मिल पाया। उल्लास का कोलहाल एक पल में ही मातम में बदल गया। ट्रेन अपने पीछे कई लोगों की लाशें बिछाकर चली गई। हर तरफ क्षत विक्षत शव पड़े हुए थे। लोग ट्रैक पर खड़े होकर रावण दहन को मोबाइल पर कैद कर रहे थे। लेकिन उनके मोबाइल पर मौत की ट्रेन का वीडियो भी रिकॉर्ड हो गया।

मरने वालों की तादाद और बढ़ सकती है। ट्रैक के दोनों ओर शव बिखरे हुए हैं। पंजाब सरकार ने ऐलान किया है कि मृतकों के परिजनों को 5 लाख रूपए और घायलों का पूरा इलाज सरकार द्वारा किया जाएगा। पीएम मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस घटना पर दुख जताया है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे पर शोक जताते हुए ट्वीट में लिखा, ‘अमृतसर रेल हादसे की वजह से बेहद दुखी हूं। यह घटना दिल दहलाने वाली है। जिन लोगों ने अपने परिजनों को खोया मेरी संवेदना उनके साथ है। मैं प्रार्थना करूंगा कि घायल लोग जल्दी स्वस्थ हों। अधिकारियों से बात की है और लोगों को त्वरित राहत देने के लिए कहा है।’

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शोक जताते हुए ट्वीट कर कहा, ‘मैंने पंजाब के गृह सचिव और डीजीपी से बात कर हादसे की पूरी जानकारी ली है। दोनों जल्द ही घटनास्थल पर पहुंचने वाले हैं। केंद्र राज्य सरकार इस दुख की घड़ी में राज्य सरकार की हरसंभव मदद करने के लिए तैयार है।’ प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि इस हादसे में 100 से अधिक लोगों की जानें गई हैं। हादसे पर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दुख जताया है। उन्होंने कहा, अमृतसर में दुखद रेल दुर्घटना के बारे सुनकर चौंक गया हूं। दुख के इस घड़ी में सभी प्राइवेट और सरकारी अस्पतालों को खुले रहने के लिए कहा गया है। जिला अधिकारियों को युद्ध स्तर पर राहत और बचाव कार्य शुरु करने का निर्देश दिया गया।

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account