रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पेरिस में राफेल विमान प्राप्त होने के बाद करेंगे शस्त्र पूजा


नई दिल्ली।
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह दशहरा के अवसर पर मंगलवार को पेरिस में पहला राफेल लड़ाकू विमान प्राप्त करने के बाद ‘शस्त्र पूजा’ करेंगे। अधिकारियों ने बताया कि दहशरे के दिन ही फ्रांसीसी पोर्ट बोर्डेक्स पर सिंह पहला राफेल विमान स्वीकार करेंगे। उन्होंने बताया कि पूजा करने के बाद सिंह राफेल में उड़ान भर उसका अनुभव भी लेंगे।सिंह वर्षों से ‘शस्त्र पूजा’ करते आ रहे हैं। पूर्ववर्ती राजग सरकार में गृहमंत्री रहते हुए भी वह शस्त्र पूजा करते थे। शस्त्र पूजा या आयुध पूजा में अस्त्र-शस्त्र की पूजा की जाती है। देश के विभिन्न हिस्सों में यह दशहरा उत्सव का हिस्सा है। रक्षा मंत्री सोमवार को तीन दिन की पेरिस यात्रा पर रवाना हो रहे हैं। दशहरा और भारतीय वायुसेना के स्थापना दिवस पर वह पहला राफेल लड़ाकू विमान स्वीकार करेंगे।

अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार को बोर्डेक्स के मेरीगनैस सबअर्ब पर पहला राफेल लड़ाकू विमान प्राप्त करने के बाद सिंह शस्त्रपूजा करेंगे। पूजा करने के बाद वह विमान में उड़ान भरेंगे। मंगलवार की सुबह बोर्डेक्स के लिए रवाना होने से पहले सिंह पेरिस में फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों से मिलेंगे। दोनों के बीच रक्षा एवं सुरक्षा मुद्दों पर चर्चा होने की संभावना है। सिंह को राफेल सौंपने का कार्यक्रम पेरिस से करीब 590 किलोमीटर दूर विमान की निर्माता कंपनी दसाल्ट एविएशन के संयंत्र में है।

हालांकि 36 विमानों में से पहला विमान रक्षा मंत्री को मंगलवार को ही मिल जाएगा लेकिन चार विमानों की पहली खेप अगले वर्ष मई में भारत पहुंचेगी। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता भारत भूषण बाबू ने बताया, ‘‘रक्षा मंत्री मेरीगनैक में फ्रांस के रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ले के साथ राफेल सौंपने के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। वह विजयदशमी के पावन अवसर पर शस्त्रपूजा भी करेंगे और विमान में उड़ान भी भरेंगे।’’ बाबू ने कहा कि सिंह नौ अक्टूबर को फ्रांस की शीर्ष आयुद्ध कंपनियों के सीईओ के साथ बैठक करेंगे। इस दौरान उनसे ‘मेक इन इंडिया’ में भाग लेने को कहा जाएगा। संभवत: सिंह उन लोगों को 5 से 8 फरवरी तक लखनऊ में आयोजित रक्षा एक्सपो में आने का न्योता देंगे।

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account