प्रमुख सुर्खियाँ :

राज्यसभा की बैठक अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

नई दिल्ली। कोरोना वायरस से उत्पन्न हालात को देखते हुये राज्यसभा के बजट सत्र को सोमवार को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक बजट सत्र तीन अप्रैल तक चलना था। सभापति एम वेंकैया नायडू ने बैठक को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करने से पहले भारत सहित विश्व भर में कोरोना संकट के कारण उत्पन्न हुए हालात की चर्चा की। उन्होंने इस आपात स्थिति से निबटने में चिकित्साकर्मियों सहित देश की आपात सेवाओं में लगे विभिन्न कर्मियों के योगदान की सराहना की।

नायडू ने कहा कि बजट सत्र के दौरान कुल 31 बैठकें होनी थीं किंतु सत्र पहले समाप्त होने के कारण इस दौरान 23 बैठक ही हो पायी। उन्होंने बताया कि बजट सत्र के पहले चरण में सदन में 97 प्रतिशत और दूसरे चरण में 64 प्रतिशत कामकाज हो पाया।

सोमवार को उच्च सदन की बैठक को अनिश्चित काल के लिए स्थगित किये जाने से पहले काफी कामकाज हुआ। इस दौरान जम्मू कश्मीर और लद्दाख से जुड़़ी अनुदान की अनुपूरक मांगों तथा वित्त विधेयक 2020 को ध्वनिमत से लोकसभा को लौटाया गया।

उच्च सदन ने सोमवार को सेवानिवृत्त रहे अपने 55 सदस्यों को विदाई भी दी। संसद का बजट 31 जनवरी को दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में राष्ट्रपति के अभिभाषण के साथ शुरू हुआ था। सभापति ने राष्ट्रगीत की धुन बजाये जाने के बाद बैठक को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया।

 

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account