सैमसंग सेफ इंडिया अभियान ने किया सरकारों और पुलिस के साथ गठजोड़

नई दिल्ली। स्‍मार्टफोन के जिम्‍मेदार उपयोग, खासकर सड़क पर सेल्‍फी लेने के दौरान, के बारे में लोगों को संवेदनशील बनाने की अपनी प्रतिबद्धता को जारी रखते हुए सैमसंग इंडिया ने अपने ‘सेफ इंडिया’ अभियान के अगले चरण की घोषणा की। सैमसंग ‘सेफ इंडिया’ अभियान के दूसरे चरण को दिल्‍ली, मुंबई, चेन्‍नई और लखनऊ में सभी रेडियो, सार्वजनिक सूचना प्रणाली और एलईडी वॉल्‍स पर संदेश प्रसारित करने के साथ ही साथ इन शहरों के स्‍कूल और कॉलेजों में फि‍ल्‍म और नाटकों के जरिये शुरू किया गया।
2017 में, सैमसंग ने केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के सड़क दुर्घटनाओं, विशेषकर उन्‍हें जो कि स्‍मार्टफोन के गैर-जिम्‍मेदाराना उपयोग की वजह से होती हैं, को कम करने के अभियान को समर्थन देने का संकल्‍प लिया था। आज भारत पूरी दुनिया में सबसे ज्‍यादा सड़क दुर्घटनाओं वाला देश है।
केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री, श्री नितिन गडकरी और उत्‍तर प्रदेश, महाराष्‍ट्र और तमिलनाडु के मुख्‍यमंत्रियों ने न केवल इस महत्‍वपूर्ण मुद्दे पर जनता के बीच अपना संदेश देकर बल्कि अपने प्रशासन और यातायात पुलिस को सक्रिय भूमिका निभाने के लिए शामिल कर सैमसंग ‘सेफ इंडिया’ अभियान से जुड़े हैं।
श्री नितिन गडकरी, केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री, भारत सरकारकार ने कहा, “मैं इस बात से बहुत चिंतित हूं कि भारत दुनियाभर में सबसे ज्‍यादा सड़क दुर्घटनाओं वाला देश है। सड़क पर सेल्‍फी लेने सहित मोबाइल फोन का गैर-जिम्‍मेदाराना उपयोग सड़क दुर्घटनाओं का एक प्रमुख कारण है। कृपया अपने मोबाइल फोन का इस्‍तेमाल जिम्‍मेदारी से करें।”
सड़क पर सेल्‍फी लेने सहित सड़क पर स्‍मार्टफोन का उपयोग जिम्‍मेदारी से करने के महत्‍व पर श्री नितिन गडकरी, केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री, श्री योगी आदित्‍यनाथ, मुख्‍यमंत्री उत्‍तर प्रदेश, श्री देवेंद्र फडणवीस मुख्‍यमंत्री महाराष्‍ट्र और श्री एदापदी के पलानीस्‍वामी मुख्‍यमंत्री तमिलनाडु द्वारा दिया गया एक रेडियो संदेश विभिन्‍न रेडियो चैनल्‍स पर प्रसारित किया जाएगा। इन शहरों के प्रमुख क्षेत्रों में स्‍थापित सार्वजनिक सूचना प्रणाली जैसे एलईडी वॉल्‍स, लिखित एलईडी स्‍क्रोल बार्स और एलईडी सार्वजनिक डिस्‍प्‍ले बोर्ड के माध्‍यम से लोगों को सड़क सुरक्षा के बारे में बताने के लिए सैमसंग चार शहरों के यातायात पुलिस विभागों के साथ भी गठजोड़ करेगी। यातायात पुलिस चार शहरों में चुनिंदा “नो सेल्‍फी” जोन में पोस्‍टर्स लगाएगी।
श्री दीपक भारद्वाज, उपाध्‍यक्ष, सीएसआर, सैमसंग इंडिया, ने कहा, “सैमसंग अपने उपभोक्‍ताओं और अपने आसपास के समुदाय की चिंता करती है। बाजार में अग्रणी होने के नाते, यह हमारा कर्तव्‍य है कि हम आगे आएं और सड़क दुर्घटनाओं को कम करने के सरकार के लक्ष्‍य को समर्थन दें। हम अपने आप को बेहद सम्‍मानित महसूस कर रहे हैं कि इस देश और राज्‍य की सरकारों ने सैमसंग ‘सेफ इंडिया’ अभियान को अपना समर्थन दिया है, जिसने इस साल इसकी गति को और बढ़ाया है।”
भारत में, प्रत्‍येक चार मिनट में एक सड़क दुर्घटना मृत्‍यु होती है। कार्नेग मेलॉन यूनिवर्सिटी, इंद्रप्रस्‍थ इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंफोर्मेशन टेक्‍नोलॉजी, दिल्‍ली और नेशनल इंस्‍टीट्यूट ऑफ टेक्‍नोलॉजी, तिरुचिरापल्‍ली की एक रिपोर्ट के मुताबिक न केवल भारत में दुनिया की सबसे अधिक सड़क दुर्घटनाएं होती हैं बल्कि आज दुनिया में होने वाली सेल्‍फी-संबंधित कुल मौतों में से 50 प्रतिशत से अधिक भारत में होती हैं। देशभर में राज्‍य और स्‍थानीय सरकारें अब बढ़ती दुर्घटनाओं की संख्‍या के प्रति चिंतित हैं, जो लोगों द्वारा सड़क पर चलते, दो पहिया पर सवारी करते और कार चलाते समय सेल्‍फी लेने के कारण बढ़ रही हैं। इस चरण में सैमसंग ‘सेफ इंडिया’ अभियान स्‍कूल छात्रों और कालेजों में युवाओं के पास भी पहुंचेगा। प्रत्‍येक शहर के यातायात पुलिस प्रमुख की ओर से ‘सेफ सेल्‍फी’ सहित स्‍मार्टफोन के जिम्‍मेदार उपयोग पर एक संदेश सभी स्‍कूलों में चलाया जाएगा और वहां स्‍मार्टफोन के जिम्‍मेदार उपयोग पर एक एनीमेशन फि‍ल्‍म भी दिखाई जाएगी।

 

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account