प्रमुख सुर्खियाँ :

सौर ऊर्जा क्षेत्र में देश को बड़ी सफलता

तय समय से पहले लक्ष्य हासिल करने के बाद सरकार ने तय किया है कि 2022 तक अब 100 गीगावॉट सौर ऊर्जा का उत्पादन किया जाए.

नई दिल्ली। राष्ट्रीय सौर मिशन का लक्ष्य था कि साल 2022 तक भारत में 20 गीगावॉट सौर ऊर्जा का उत्पादन किया जाए. उस लक्ष्य को देश ने तय वक्त से चार साल पहले ही हासिल कर लिया. अब इस अपार सफलता के मद्देनजर सरकार ने तय किया है कि 2022 तक 100 गीगावॉट सौर ऊर्जा का उत्पादन किया जाए. दूसरी तरफ, हरित ऊर्जा के संबंध में शोध करने वाली कंपनी मेरकॉम कैपिटल ने भी सौर ऊर्जा की दिशा में भारत के प्रयासों की सराहना की है. एक ताजा अध्ययन में उसने कहा है कि साल 2009 में भारत में सौर ऊर्जा का उत्पादन सिर्फ छह मेगावॉट ही था जो कि 2018 में बढ़कर 20 गीगावॉट तक पहुंच गया.
2014 में केंद्र में नरेंद्र मोदी सरकार बनने के बाद नवीकरणीय ऊर्जा को तेजी से बढ़ावा मिला है. जानकारों के मताबिक नतीजतन 2017 में ऐसा पहली बार हुआ जब ऊर्जा उत्पादन के विभिन्न स्रोतों में सौर ऊर्जा की भागादारी सबसे ज्यादा रही. लेकिन अब यह चिंता भी जताई जा रही है कि इस साल सौर ऊर्जा के उत्पादन में कुछ कमी भी आ सकती है. मेरकॉम कैपिटल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राज प्रभु बताते हैं, ‘सरकार ने 2022 के लिए नया लक्ष्य तो निर्धारित कर दिया है लेकिन इसके साथ वह सोलर पैनलों के आयात पर शुल्क लगाने के बारे में सोच रही है. सरकार का विचार है कि ऐसा करने से मेक इन इंडिया अभियान के तहत देश में भी इन पैनलों का निर्माण बढ़ेगा. लेकिन इससे हितों में टकराव की संभावना भी है. अगर ऐसा हुआ तो सौर ऊर्जा के उत्पादन में भारी गिरावट देखने को भी मिल सकती है.’

 

अनंत अमित

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account