आखिर 11 प्रतिशत ट्रक चालक को ही क्यों है अपने जीवन की परवाह ?

नई दिल्ली। चालक और किसान पीढ़ियों से भारत की रीढ़ के तौर पर अपनी सेवाएं दे रहे हैं। वे वर्तमान के कठिन समय में भी अथक परिश्रम कर रहे हैं, लेकिन उनकी जीवनशैली आलस से भरी है, वे अपनी सेहत और इम्युनिटी पर ध्यान नहीं देते हैं। कैस्ट्रॉल इंडिया के एक हालिया अध्ययन ने खुलासा किया है कि प्रत्येक 3 में से एक ट्रक चालक और किसान ने माना है कि उसे स्वास्थ्य सम्बंधी समस्या है, जैसे कमर दर्द, नींद न आना, थकान और जोड़ों में दर्द; उनमें से केवल 11 प्रतिशत लोग स्वस्थ जीवनशैली और इम्युनिटी को अपनाना चाहते हैं, इस प्रकार वे लोग इन बातों को सबसे कम प्राथमिकता देते हैं।
इस अध्ययन से यह खुलासा भी हुआ है कि उनमें से दो तिहाई (68 प्रतिशत) से अधिक लोग अपने परिवारों और खुद के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित थे। हालांकि, शोध बताता है कि स्वस्थ जीवनशैली और तंदुरूस्ती के प्रति उनका रुझान कम है, क्योंकि उनमें से लगभग दो तिहाई (65 प्रतिशत) लोगों ने माना है कि वे दिलचस्‍पी और समय की कमी के कारण किसी भी तरह की फिटनेस में संलग्‍न नहीं हैं। उपरोक्त उल्लेखित स्वास्थ्य की चिंताओं के बावजूद 3 में से 1 ट्रक चालक और किसान ने यह भी माना कि वह अधिक स्वस्थ जीवन जीने के लिये कोई प्रयास नहीं कर रहा है।
अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर स्वस्थ जीवनशैली और तंदुरूस्ती के महत्व को दोहराते हुए, कैस्ट्रॉल इंडिया ने योगा इंस्टिट्यूट ऑफ मुंबई के साथ भागीदारी की है। पिछले दो वर्षों में ट्रक चालकों और किसानों के लिये अपने स्वास्थ्य कार्यक्रम का नवीनीकरण किया है, ताकि उनकी तंदुरूस्ती को मजबूती मिले और उन्हें आसनों के एक उचित सेट के माध्यम से रोज के रूटीन में सेहतमंद जीवनशैली के महत्व से अवगत कराया है।
इस पहल के बारे में कैस्ट्रॉल इंडिया लिमिटेड के प्रबंध निदेशक संदीप सांगवान ने कहा, ‘‘हमारे ट्रक चालक और किसान इस असाधारण समय में भी हमारे जीवन को बाधारहित रखने के लिये अथक परिश्रम कर रहे हैं। भारत को चलायमान रखने के लिये हम उन्हें सलाम करते हैं। कैस्ट्रॉल एक जिम्मेदार ब्राण्ड के तौर पर अपना काम कर रहा है और हमारे ट्रक चालकों और किसानों के लिये कैस्ट्रॉल सीआरबी ट्रक आसन और खेत आसन कार्यक्रमों के जरिये तंदुरूस्ती की संस्कृति को बढ़ावा देकर इन समुदायों को सहयोग कर रहा है।’’
इस स्वास्थ्य कार्यक्रम के हिस्से के तौर पर कैस्ट्रॉल इंडिया विशेष रूप से तैयार इन आसनों पर अधिक जानकारी पाने के लिए इन समुदायों की मदद हेतु एक खास हेल्पलाइन भी लॉन्च करेगा।
इस पहल के अंतर्गत बॉलीवुड अभिनेता रणदीप हुड्डा निस्वार्थ सेवा के लिये इन समुदायों को सम्‍मान देंगे और उनसे अपने स्वास्थ्य को महत्‍व देने का अनुरोध करेंगे।
रणदीप हुड्डा ने कहा, ‘‘यह जरूरी है कि हम इन समुदायों के प्रति अपना दृष्टिकोण बदलें और स्वस्थ जीवन जीने में उनकी मदद करें। अभी के कठिन समय का ध्यान रखना भी महत्वपूर्ण है। इस अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर कैस्ट्रॉल सीआरबी और मैं देशभर के ट्रक चालकों और किसानों को योग अपनाने, स्वस्थ जीवनशैली अपनाने और खुद को भीतर से मजबूत बनाने के लिये प्रोत्साहित करने की उम्मीद करते हैं।’’
श्रीपद नाईक, माननीय राज्‍यमंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार), आयुष मंत्रालय, भारत सरकार ने कहा, ”यह प्रोग्राम योग को जिंदगी जीने का तरीका बनाने और घर-घर तक पहुंचाने के भारत सरकार और माननीय प्रधानमंत्री के विजन के अनुरूप है। यह कार्यक्रम शुरू करने के लिये कैस्‍ट्रॉल इंडिया को शुभकामनायें। यह सुनिश्चित करता है कि हमारे ट्रक ड्राइवर्स और किसान स्‍वस्‍थ बनें, ताकि वे निरंतर हमारे देश को अपना सहयोग दे पायें।”

 

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account