प्रमुख सुर्खियाँ :

अमेज़न ने ‘लोकल शॉप्स ऑन अमेज़न’ प्रोग्राम लॉन्च किया

 

नई दिल्ली। : Amazon.in ने आज ‘लोकल शॉप्स ऑन अमेज़न’ के लॉन्च की घोषणा की है। यह एक ऐसा प्रोग्राम है जो ईकॉमर्स के लाभ लोकल दुकानदारों और सभी आकारों के रिटेलरों को प्रदान करता है। यह मौजूदा ग्राहकों के अलावा अतिरिक्त पूर्ति के लिये डिजिटल उपस्थिति का सहारा लेता है और उनकी पहुँच को सामान्य क्षेत्र से आगे ले जाता है। इस प्रोग्राम के हिस्से के तौर पर अमेज़न अपनी प्रौद्योगिकी, प्रशिक्षण और योग्यतावर्द्धक क्षमताओं का उपयोग कर भारत की लोकल दुकानों और सभी आकारों के रिटेलरों को ऑनलाइन बिक्री की शक्ति देगा।

‘‘लोकल शॉप्स ऑन अमेज़न’’ में शामिल होने वाले दुकानदार शहर के भीतर तेज आपूर्ति के लिये अपने मौजूदा डिलीवरी सेटअप का उपयोग कर सकेंगे और अमेज़न की फुलफिलमेन्ट सेवाओं का उपयोग कर अपने सेवा योग्य क्षेत्रों का विस्तार भी कर सकेंगे। इसके अलावा, यह दुकानें अमेज़न के अन्य प्रोग्रामों के लिये साइन अप कर सकती हैं, जैसे आई हैव स्पेस, डिलीवरी और पिकअप पॉइंट के तौर पर काम करने के लिये, और ‘अमेज़न ईजी’ अपने वॉक-इन ग्राहकों के लिये विस्तारित संग्रह की पेशकश करते हुए अतिरिक्त आय के लिये। भारत के लगभग 5000 दुकानें और रिटेलर्स इस प्रोग्राम में एनरोल हो चुके हैं और उनमें से सैकड़ों लोग ऐसे उत्पाद बेच रहे हैं, जो इस कठिन समय में ग्राहकों के लिये जरूरी हैं।

ऑनलाइन और ऑफलाइन खरीदारी का बेहतरीन अनुभव देने वाला यह प्रोग्राम ग्राहकों को अपने घरों के पास स्थित लोकल दुकानों से खरीदारी में मदद करता है; वे व्यापक चयन का लाभ, तेज आपूर्ति और इन-बिल्ट मूल्यवर्द्धित सेवाएं ले सकते हैं, जैसे डेमो और इंस्टालेशन, पुराने से नये फोन में कॉन्टैक्ट ट्रांसफर, आदि। हालांकि, वर्तमान स्थिति के कारण, अभी ग्राहक लोकल दुकानों और रिटेलरों से इस प्रोग्राम के अंतर्गत केवल जरूरी चीजें ही ले सकते हैं।

पिछले छह माह से अमेज़न इस प्रोग्राम के लिये करीब 5000 से अधिक लोकल दुकानों और ऑनलाइन रिटेलरों के साथ एक पायलट चला रहा है। यह रिटेलर मेट्रो और टियर 1 तथा टियर 2 शहरों के हैं, जैसे बैंगलोर, मुंबई, दिल्ली, हैदराबाद, पुणे, जयपुर, अहमदाबाद, कोयंबटूर, सूरत, इंदौर, लखनऊ, सहारनपुर, फरीदाबाद, कोटा, वाराणसी, आदि। पायलट की दुकानें विभिन्न उत्पादों वाली हैं, जैसे किचन, होम, फर्नीचर, परिधान, ऑटोमोटिव, ब्यूटी, इलेक्ट्रॉनिक्स, खेल, किराना, लॉन और गार्डन, किताबें, खिलौने, आभूषण, बड़े उपकरण, आदि।

इस प्रोग्राम का हिस्सा बन चुके लोकल दुकानों और रिटेलरों में शामिल हैं, दिल्ली इलेक्ट्रॉनिक्स प्लाजा (कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स, दिल्ली), मायस्लीपीहेड (मैट्रेसेस, कृष्णागिरी), ग्रीन सोल (फर्नीचर, मुंबई), संगीता मोबाइल्स (मोबाइल फोन, बेंगलुरू), आर्या ऑर्गेनिक प्रोडक्ट्स (किराना कंज्यूमैबल्स, बेंगलुरू), कम्फर्ट बेडिंग (बिस्तर और मैट्रेसेस, दिल्ली), शू मिस्त्री (शूज केयर, दिल्ली), इलेक्ट्रो कार्ट (दिल्ली एनसीआर), मधुरम इलेक्ट्रॉनिक्स (अहमदाबाद), द मैट्रेस हब (दिल्ली एनसीआर), इलेक्ट्रॉनिक्स शॉपी (दिल्ली एनसीआर), अदिथ इलेक्ट्रॉनिक्स, रॉ प्रेसरी (बेवरैजेस, मुंबई), वीगारंटी (किराना और हेल्थकेयर, लखनऊ), आदि।

अमेज़न इंडिया में विक्रेता सेवाओं के वाइस प्रेसिडेन्ट गोपाल पिल्लई ने कहा, ‘‘लोकल शॉप्स ऑन अमेज़न देश के प्रत्येक प्रेरित विक्रेता को भारत और विश्व के ग्राहकों तक पहुँचाने के हमारे प्रयास के अनुसार है। यह लोकल दुकानों और सभी आकारों के रिटेलरों का सशक्तिकरण करता है, ताकि अपने मौजूदा संसाधनों और संपदाओं का उपयोग करते हुए वे बड़े ग्राहक आधार का लाभ लें। इधर ग्राहकों को भी एकीकृत मूल्यवर्द्धित सेवाओं और उत्पादों की तेज आपूर्ति के साथ अपने शहर की लोकल दुकानों से खरीदी की सुविधा मिलती है।’’ यह प्रोग्राम प्रौद्योगिकी को अपनाने और खुद को डिजिटल और हाइब्रिड स्टोर बनाने में स्थानीय दुकानों और रिटेलरों की मदद कर सकता है। अमेज़न इंडिया ने इस पायलट के विस्तार और भारत के प्रेरित रिटेलरों या दुकानदारों को प्रशिक्षित करने के लिये 10 करोड़ रू. का संकल्प लिया है।

 

 

 

टीम डिजिटल

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account