रॉयटर्स के वीडियो का विरोध, सुप्रीम कोर्ट की अधिवक्ता रीना एन सिंह ने विदेश मंत्री को लिखा पत्र

नई दिल्ली। रॉयटर्स, “ट्विटर हैंडल @Reuters” के एक ट्वीट के संबंध में “गायों” के प्रति क्रूरता का वीडियो दिखाया गया जिसमे वह 40 फीट की ऊंचाई से उतरकर वध के लिए जा रही थी, हिंदू धर्म में गौ माता, मां के सामान पवित्र और पूजनीय हैं, यह वीडियो पाकिस्तान के कराची शहर का है। सुप्रीम कोर्ट की अधिवक्ता रीना एन सिंह द्वारा गौ माता पर हो रही क्रूरता के सम्बन्ध में विदेश मंत्री एस॰ जयशंकर को एक पत्र लिखा गया, जिसमे “गायों” के प्रति क्रूरता के खिलाफ विश्व स्तर पर एक मजबूत संदेश देने की जरूरत के लिए आग्रह किया गया है कि “गाय” सिर्फ एक जानवर नहीं है, बल्कि हिंदू इसे माँ के रूप में पूजते है। रॉयटर्स में दिखाए गए इस वीडियो को देखना किसी भी हिन्दू के लिए अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है।

प्रत्येक गाय, हिंदू के लिए दैवीय और प्राकृतिक उपकार का प्रतिनिधित्व करती है और इसलिए उसे संरक्षित और सम्मानित किया जाना चाहिए। इस तरह की ट्वीट गायों के प्रति क्रूरता तथा गायों के वध को प्रोत्साहित करती है, जो किसी भी कीमत पर हिन्दू समाज को स्वीकार्य नहीं है। रॉयटर्स जैसी अंतरराष्ट्रीय समाचार एजेंसी अपने मुनाफे के लिए इस तरह की सामग्री को बढ़ावा देना बंद करे क्यूंकि ऐसा करने से विश्व भर में फैले हिन्दू समाज की धार्मिक भावनाये आहत होती है। गौमाता या किसी भी प्राणी के साथ हुई क्रूरता के जघन्य कृत्यों को प्रदर्शित करना कभी भी, किसी की भी आय का स्रोत नहीं होना चाहिए। पत्र के द्वारा विदेश मंत्रालय से अनुरोध किया गया है कि वैश्विक स्तर पर किसी भी प्रकार के सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर गायों के प्रति प्रदर्शित इस तरह की क्रूरता के खिलाफ कड़ी कानूनी कारवाई होनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.